पायल की अतृप्त प्यास- 5

न्यूड गर्ल बॉण्डेज सेक्स का मजा ले गयी अपने टीचर के घर आकर. टीचर की बीवी मायके गयी तो कॉलेज गर्ल को चुदाई के लिए लाइब्रेरियन अपने घर ले आया.

प्रिय पाठको,
मेरी कहानी के पिछले भाग
कॉलेज गर्ल की चूत में 4 लौड़े
में आपने पढ़ा कि कॉलेज के लाइब्रेरियन से चुदकर लड़की को सेक्स की लत लग गयी. जब वो 2 दिन तक कॉलेज नहीं आया तो लड़की ने 4 लड़कों से बारी बारी चूत मरवा ली.

अब आगे न्यूड गर्ल बॉण्डेज सेक्स:

अब आए दिन पायल की प्यास बढ़ती जा रही थी.
उधर प्रकाश भी बीवी को शक ना हो इसीलिए पल्लवी को उसके अधिकार का सुख और वक्त दे रहा था।

पायल की अतृप्त प्यास को अब नए सहारे की जरूरत थी।
आए दिन नए नए लंड लेना पायल का शौक हो गया।

कभी वो घर के पास वाले परचून की दुकान पर बैठे लाला से चुदाती तो कभी अपने मकान मालिक से!
कॉलेज के लड़कों में पायल गर्म माल के नाम से प्रख्यात हो गई थी। कॉलेज आना और क्लास के बीच, नए नए लड़कों से चुदना, उसकी दिनचर्या का हिस्सा बन गया।

वो अब सिर्फ प्रकाश के सहारे नहीं थी।

कुछ समय बाद वो वक्त आया जब पल्लवी को अपने मायके जाना था।

प्रकाश मन ही मन पायल को दिन रात चोदने के ख्याली पुलाव पकाने लगा।
वह इस बात से बेखबर था कि उसकी निजी रखैल अब जाने कितने लंड खा चुकी है।

पल्लवी को उसके मायके छोड़ के आने के बाद प्रकाश ने पायल को मेसेज किया- तू अगले दो हफ्तों तक सिर्फ मेरी है, घर में बोल दो की दो हफ्ते के लिए बाहर जा रही हूं। और सामान लेकर मेरे पास चली आ! तू नहीं जानती कि मैं तुझे चोदने को कितना बेसब्र हूं।

पायल शाम को ही सामान लेकर प्रकाश के घर आ गई।
प्रकाश ने चुपके से उसे घर के अंदर लिया ताकि कोई देख न ले।

अंदर घुस वो तुरंत नंगा हो गया, उसका लंड पायल के साथ रंगरलियां मनाने के ख्याल से पहले से ही खड़ा था।

“घर अच्छा है तुम्हारा!” पायल सारी तरफ नज़र दौड़ाती हुई बोली।

प्रकाश ने पायल की बात को नजरंदाज करते हुए पायल के गर्दन पर बेतहाशा चुम्बनो की बारिश कर दी।

“आह्ह पायल, तू नहीं जानती कि कब से इस मौके की तलाश में था मैं! इन दो हफ्तों में तेरी चूत का भोसड़ा ना बनाया तो कहना! तेरी गांड भी मारूंगा, इतना चोदूंगा कि साली तू खड़ी नहीं हो पायेगी!”
प्रकाश अपनी अन्तर्वासना जाहिर करते हुए बोला।

उसने पायल की कुर्ती में हाथ डाल दिया.
पायल कोई जवाब नहीं दे रही थी क्योंकि अब प्रकाश उसके लिए एक खिलौना था, जैसे बाकी मर्द थे।

उसे सिर्फ प्रकाश के लंड से मतलब था, पायल की चूत की रेगुलर चुदाई और रगड़ाई होती रहे इसीलिए उसने प्रकाश से नाता अब तक नहीं तोड़ा था।
आखिर उसकी जिंदगी का पहला अनुभव प्रकाश ने ही उसे दिया था।

प्रकाश के चुम्बन और उसके मजबूत हाथों को पकड़ में पायल पिघलने लगी- अअह्ह प्रकाश, मैं भी तो कब से तड़प रही हूं, तुम्हारी होने के लिए!
उसने कोरा झूठ बोलते हुए प्रकाश को बढ़ावा दिया।

ये सुन प्रकाश ने तुरंत पायल की पायजामी में हाथ डाल दिया और उसकी चिकनी चूत भींच दी.
तो पायल बोली- मैं, सिर्फ तुम्हारी हूं … आह्ह … आआहह!

पायल की चूत पाव रोटी सी फूली थी. दिन में दो दो मजबूत लोड़े लेकर पायल की चूत सूज गई थी।

प्रकाश ने दरवाजे पर खड़े खड़े ही पायल की चूत में उंगली करना शुरू कर दिया।
पायल भी उसकी इन हरकतों से गर्म हो चुकी थी।

पायल ने वासना में डूबी आधी बंद होती आँखों से पूछा- अपनी इस रंडी को घर नहीं दिखाओगे?
प्रकाश- तुझे तो हर कोने में चोदूंगा मेरी रांड।

यह कहते हुए उसने पायल की एक टांग को बाजू में अटका कर ऊपर हवा में कर दिया और उसकी चूत को तीन उंगलियों से चोदने लगा।

पायल- आह्ह आआ आह्ह … तुम तो मुझे पागल ही कर दोगे।
प्रकाश ने पायल के होंठ अपने होंठों में दबा लिए और दोनों एक दूसरे को बेतहाशा चूमने लगे।

पायल की रस से भरी चूत को महसूस कर प्रकाश उसी पल पायल को चोदने को आतुर हो उठा.

उसने पायल को पलटा दिया.
अब पायल का चेहरा दीवार से चिपका था और उसकी गांड प्रकाश की तरफ थी।

प्रकाश ने पायल की लेगिंग को पकड़ कर नीचे कर दिया और अपना मुंह उसकी गांड के चीरे में डाल दिया।

पायल को शुरू में प्रकाश की इस नई हरकत से तो थोड़ा अजीब लगा, फिर वो भी पूरा साथ देने लगी.
वह अपने ही हाथों से अपनी गांड को गोलाइयां खोलने लगी, जिस से पायल की चूत का छेद और गांड का छेद एक साथ दिखने लगा।

कुछ देर पायल की गांड चाटने के बाद प्रकाश खड़ा हुआ और उसने अपना सख्त मोटा मूसल सा लंड पायल की चूत में पेल दिया.

इन दो हफ्तों में प्रकाश पायल की गांड को अपना बनाना चाहता था इसीलिए उसे भी तैयार करना जरूरी था.
प्रकाश ने पायल की गांड में उंगली भी कर दी।

अब चूत चोदते हुए वो पायल की गांड भी अपनी उंगली से मार रहा था।

गर्म पायल सिर्फ आह आह के अलावा कुछ नहीं कह पा रही थी।

“आआ आह्ह आआह आआआ आह्ह अअह्ह!”

प्रकाश ने जल्दी ही अपने वीर्य से पायल की चूत भर दी।
उसे अब पायल के सुख की परवाह नहीं थी, वो केवल पायल को अपनी अन्तर्वासना भोगने की वस्तु समझने लगा था।

बीवी और रखैल के बीच का अंतर अब साफ दिखने लगा था प्रकाश को … ऐसे में वो सिर्फ अपनी सुखपूर्ति के लिए पायल को अपने घर लाया था।

पायल की चूत की सील तोड़ने के बाद अब उसे उसकी गांड की सील भी तोड़नी थी।
पर वो कहां जानता था कि उसकी खोली गई चूत में जाने कितने लंड सैर कर चुके थे अब तक! कुछ माह पहले जो अनछुई चूत थी अब उसमे आए दिन पायल कई लड़कों का वीर्य डलवाने लगी थी।

तृप्त हो प्रकाश पायल से अलग हुआ, पायल अभी तक यौन तृप्ति तक नहीं पहुंची थी।

पायल का हाथ पकड़ प्रकाश उसे बेडरूम में ले गया, उसकी कुर्ती उतार नंगी कर दिया.
अब पायल की केवल चूचियां ब्रा के अंदर ढकी थी.

उसे ऊपर से नीचे तक निर्वस्त्र देख प्रकाश बोला- दो हफ्तों के लिए तू मेरी बीवी है। इसलिए जैसे अपनी बीवी की बजाता हूं, तेरी भी वैसे बजाऊंगा।

खिलखिला कर पायल बोली- मैं यहां पर हर वक्त तुम्हारे लिए नंगी रहने आई हूं। तुम्हारी हर अन्तर्वासना से तुम्हें परिचित कराने! बीवी नहीं, रखैल बना कर चोदना।

यह सुन प्रकाश ने उसकी ब्रा खोल उसे नंगी कर दिया।

पायल की चूचियों पर कुछ निशान थे.
प्रकाश ने उस वक्त कोई सवाल नहीं किया।

पर वो जान गया था कि ये निशान तो केवल चूची चूसने वाला ही बना सकता है. और पिछले कुछ दिन से प्रकाश ने सिर्फ पायल की चूत का भोसड़ा बनाने पर ही ध्यान दिया था।
आईने के सामने उसे ले जाकर पीछे से बाहों में भर कर उसकी संतरों सी चूचियां भींचते हुए देखने लगा।

पायल कामुक सा चेहरा बना कर आईने में प्रकाश के आलिंगन मजा लेते हुए अपनी चूचियों से खेलता देख रही थी.

जिस तरह प्रकाश कई बार पल्लवी को बिस्तर से बांध कर चोदता था, उसने पायल को भी बिस्तर से बांध दिया।

फिर वह फ्रिज से बर्फ के टुकड़े ले आया।
अब प्रकाश धीरे धीरे उन बर्फ के टुकड़ों को वो पायल के जिस्म पर फिराने लगा।

पायल तड़पने लगी।
एक टुकड़ा मुंह में रख प्रकाश ने पायल की चूत के दाने पर मुंह लगा दिया और चाटने लगा।

पायल इस नए एहसास से चिहुंक उठी- आह्ह प्रकाश … आह मैं मर जाऊंगी, रुक जाओ।

“आह अअह्ह”

प्रकाश नहीं रुका, पायल का मुंह रुकने को कह रहा था, पर उसका जिस्म कुछ और ही इशारा कर रहा था, वो अपनी गांड उचकाकर और चाटने का निमंत्रण दे रही थी।

न्यूड गर्ल बाँडेज सेक्स का मजा लेती हुई देखते प्रकाश के मुंह में झड़ गई।
उसकी चूत के पानी और बर्फ से पिघलते पानी से बिस्तर गीला हो गया।

प्रकाश ने पायल की बिना चेहरे की तस्वीर खींची और पायल को दिखाने लगा- देख तेरी चूत कितना पानी छोड़ती है. पूरा बिस्तर गीला कर दिया, अब पड़ी रह अपने पानी के अंदर भीगी हुई!
यह कहकर वो नहाने चला गया, पायल वहीं बिस्तर पर बंधी रही।

जब वो लौटा तो उसकी इच्छा हुई कि पायल से लंड चुसवाया जाए!

वो पायल की छाती पर टांगें अगल बगल कर बैठ गया और उसके गाल पिचका कर उसका मुंह खोल, उसके मुंह में लंड देने लगा।

पायल भी साथ देते हुए प्रकाश का लंड चूसने लगी.

धीरे धीरे प्रकाश का शिथिल पड़ा हुआ लंड वापिस अपनी पराकाष्ठा पर आने लगा।

पायल के मुंह में प्रकाश की लुल्ली बड़ी होकर मूसल बन गई।
प्रकाश भी धीरे धीरे गांड हिला कर पायल का मुंह उसकी चूत की भांति चोदने लगा।

पायल के गले तक लंड पेलते हुए वह पायल के होंठों को उंगली से खींच कर चौड़ा करते हुए तेज़ी से लंड अंदर बाहर करने लगा जैसे गैर मर्दों से चुदने का बदला ले रहा हो।

बार बार पायल के फोन में मेसेज आने की आवाज भी आ रही थी जिसे दोनों सुनकर भी अनसुना कर रहे थे।

पायल की हालत चूस चूस के खराब थी, उसकी सांसें उखड़ रही थी।

प्रकाश को तरस आ गया और उसने अपना लौड़ा बाहर निकाल लिया.
अब वो मिशनरी में पायल के ऊपर आ गया।

पायल की चूत किसी के लंड को निराश नहीं करती थी जैसे हमेशा चुदने को तैयार हो।

प्रकाश अपना भरी भरकम फौलादी शरीर पायल के कोमल से बदन पर रगड़ने लगा।

लंड भी अपने आप सही जगह जाके टिक गया.
प्रकाश के हिलते जिस्म के साथ लंड भी पायल की खुली चूत पर रगड़ खाने लगा.

तभी प्रकाश ने अचानक ही झटका दिया और लंड पायल की चूत में प्रवेश कर गया।
अपनी रखैल को यूं नंगी, बिस्तर से बंधी देख, प्रकाश अपनी हर छोटी बड़ी यौन इच्छा को पायल से पूरा कर लेना चाहता था।

लंड जब पायल की चूत के रस में रम गया तो प्रकाश ने पायल की गांड के छेद पर टिकाया और कसी गांड में प्रवेश करने की नाकाम कोशिश करने लगा।

नाकामी हाथ लगने के कारण उसने पायल को छोड़ दिया और उसकी रस्सियां खोल दी।
पायल प्रकाश से लिपट गई।

“मज़ा आया?” प्रकाश ने पूछा।
“बहुत मज़ा आया, बता नहीं सकती की कितना!” पायल खुशी से बोली।

“आज तो पहला दिन है, अभी रुक जाओ, देखो तो आगे आगे होता है क्या!”
“और भी कुछ करने वाले हो?” पायल ने उत्सुकता से पूछा।

प्रकाश- तुम रोज एक नया किरदार बनोगी। जैसे कल कामवाली बाई बनोगी, फिर मैं तुम्हें एयर होस्टेस बनाऊंगा, कभी तुम्हें दूधवाली बनाऊंगा, कभी सब्जी वाली, कभी तू एक बाजारू रंडी बनोगी, और कभी सेक्रेटरी, कभी मॉडल, या फिर केमिस्ट्री की टीचर, सुना है बड़ी कड़क है वो भी तेरी तरह! और जब तू कॉलेज स्टूडेंट बनेगी, मेरी पायल बनेगी, तो ऐसा चोदूंगा तुझे कि कभी मेरा लंड नहीं भूलेगी।

प्रकाश ने आगे के दो हफ्तों का प्लान पायल को समझाया।
सुनते हुए पायल गर्म होने लगी और अपनी चूचियां भींचने लगी।

प्रकाश ने पायल के हाथ उसकी चूचियों से हटाए और अपना मुंह लगा दिया।
वो उसके कसी हुई संतरे सी चूचियां, मसलता, मरोड़ता हुआ चूसने लगा; उसके सख्त चूचक, दांतों में ले कर दबाता … तो पायल मीठे मीठे दर्द से सिसकारियां भरती।

“अअह्ह हह … आराम से करो ना!”
प्रकाश ने नजरंदाज करते हुए पायल को काटना खसोटना जारी रखा, उसकी चूचियां, मसल मसल कर, रगड़ रगड़ कर, मरोड़ मरोड़ कर, लाल नीली कर दी।

प्रकाश के दांतों के निशान चूचियों को और खूबसूरत बना रहे थे।

अब वो पायल की गर्दन पर चूमने लगा, उसकी गर्दन का मास होंठों में दबा कर खींचते हुए चूसने लगा, जिससे अब पायल की गर्दन पर भी अपनी निशानी देने लगा।

थोड़ी देर यूं फोरप्ले के बाद, दोनों अलग हुए, उन्हें भूख लग रही थी।

प्रकाश ने खाना बाहर से मंगवाया, दोनों डाइनिंग टेबल पर नंगे साथ खाना खाने लगे.
रह रह प्रकाश को अपनी बीवी पायल की डाइनिंग टेबल की चुदाई याद आने लगी।

खाना खाकर उसने पायल को उसने अपनी गोद में बिठा लिया और चूचियां चूसते हुए उसकी चूत में उंगली करने लगा।

पायल पहले हुए फोरप्ले से पहले ही बहुत गर्म हो चुकी थी।
देखते ही देखते पायल प्रकाश के हाथों में झड़ गई।

आगे क्या हुआ, अगले दो हफ्ते प्रकाश ने पायल के साथ क्या क्या किया, अगले शृंखला में!

प्रिय पाठको, आपको मेरी न्यूड गर्ल बाँडेज सेक्स कहानी कैसी लगी?
मुझे ईमेल और कमेंट्स में बताएं.
[email protected]

Check Also

पति पत्नी की चुदास और बड़े लंड का साथ- 1

गन्दी चुदाई की कहानी में हम पति पत्नी दोनों चुदाई के लिए पागल रहते थे, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *