अपनी बीवी को डॉक्टर से चुदवा दिया

ककोल्ड हसबैंड वाइफ सेक्स कहानी में एक पति ने अपनी शर्मीली बीवी को अपने दोस्त डॉक्टर के लंड से अपने सामने चुदवा दिया. मजा लें इस डबल चुदाई का.

हैलो फ्रेंड्स, मैं आज आपको अपनी बीवी की चुदाई की कहानी सुनाने हाजिर हुआ हूँ.

मेरी इच्छा अपनी पत्नी राजंती की चुदाई देखने की थी.

मैं जब भी राजंती से इस बारे में बात करता था तो वह मुझे बहुत गुस्से से देखा करती थी.
लेकिन जब मैं उसे यह बात रात को कमरे में उसकी चुदाई करते समय करता था तो उसे बहुत ही आनन्द मिलता था.

चुदाई खत्म होने के बाद राजंती कहती थी कि मैं ऐसा वैसा कुछ भी नहीं करूंगी. मुझे बस आपका लौड़ा ही बहुत ज्यादा पसंद है. मुझे किसी और लौड़े की जरूरत नहीं है.
मैंने कहा- तुम्हारी बात सही है लेकिन तुम्हें किसी दूसरे के लंड से चुदाई हुए देखना मेरी इच्छा है.

राजंती ने कहा- तुम पागल हो और हवस के भूखे हो.
वो सही कहा रही थी, मैं ककोल्ड हसबैंड हूँ.

मैंने कहा- अरे यार, वह बात गलत होती है, जो पति अपनी पत्नी को जबरदस्ती किसी और से चुदाई करवाए. मैं ऐसा कुछ भी नहीं करूंगा. जब तुम हां करोगी, तभी मैं इसी काम के लिए राजी रहूंगा. मैं तुम्हारे साथ जबरदस्ती नहीं करूंगा.

राजंती ने कहा- हां, तुम्हारी बात सही है लेकिन मैं ऐसा काम नहीं करूंगी.
मैंने हंसते हुए कहा- एक दिन मैं तुम्हें इस काम के लिए मना लूंगा.
राजंती ने कहा- देखते हैं.

मुझे राजंती की मस्त मोटी गांड और गोरी चूत पसंद है. मेरी पत्नी एक लंबे कद काठी की खूबसूरत सेक्सी औरत है.

अब मैं राजंती को किसी गैर मर्द के लंड से चुदवाने के लिए प्लान बनाने लगा.
ककोल्ड हसबैंड वाइफ सेक्स यहीं से शुरू होता है.

मैंने राजंती को अपने दोस्त डॉक्टर विकास मिश्रा के लौड़े से चुदवाने का सोचा.
डॉक्टर विकास मिश्रा एक हट्टे-कट्टे नौजवान मर्द हैं. उनकी उम्र 40 वर्ष है.

जबकि मेरी बीवी राजंती की उम्र अभी 28 साल है.
मुझे ज्यादा दिमाग लगाने की जरूरत ही नहीं पड़ी.

एक दिन राजंती के पेट में दर्द हो रहा था.
मैं रात को जब घर पर आया तो मेरी पत्नी पलंग पर लेटी हुई थी.

मैंने पूछा- क्या हुआ?
राजंती ने कहा- मेरे पेट में दर्द हो रहा है.

फिर क्या था मेरे दिमाग में राजंती को डॉक्टर विकास मिश्रा के लंड से चुदवाने का प्लान बनने लगा.

मैंने कहा- चलो, मैं तुम्हें डॉक्टर के पास दिखा लाता हूं.
राजंती- हां चलो.

मैं अपनी बीवी राजंती को डॉक्टर विकास के पास ले गया.
डॉक्टर मिश्रा की नजर मेरी पत्नी के ऊपर बहुत दिनों से थी लेकिन उन्हें कभी ऐसा मौका नहीं मिला था कि वो राजंती के बदन से खेल सके.

मैं राजंती को डॉक्टर के पास ले गया डॉक्टर मिश्रा ने मेरी बीवी की तरफ वासना से देखते हुए कहा- क्या हुआ, आज आपका मेरे पास कैसे आना हुआ?
मैंने कहा- सर, मेरी पत्नी के पेट में बहुत दर्द है.

डॉक्टर विकास ने मेरी बीवी से कहा- चलो अन्दर, मैं आपका चैकअप कर लेता हूं.
मैंने राजंती को चैकअप रूप में जाने के लिए बोला.

जब डॉक्टर विकास राजंती का चैकअप करने के लिए चैकअप रूम में ले गए तो मैंने दरवाजे की झिरी में से देखा कि डॉक्टर ने अपने दाहिने हाथ से अपने लौड़े को पकड़ रखा था.

डॉक्टर विकास ने दरवाजा बंद कर लिया लेकिन गलती से कुंडी नहीं लगाई.
वह दरवाजा अपने आप हल्का सा खुल गया, तो मैंने देखा विकास राजंती के पेट को सहला रहे थे और उन्होंने अपने हाथ से अपने लौड़े को जोर से दबा रखा था.

धीरे धीरे डॉक्टर अपने हाथ को राजंती की नाभि के पास ले आए.

राजंती ने कहा- दर्द पेट में ऊपर को हो रहा है, नीचे नहीं.
विकास ने कहा- मैं चैकअप कर रहा हूं. आप शांत लेटी रहें.

अब विकास अपने हाथ को राजंती की नाभि से और नीचे ले गए.
राजंती ने कहा- यह आप क्या कर रहे हो?

मैं बाहर से यह सब देख रहा था.
यह सब देख कर मेरा लंड तन गया था.

विकास के हाथ मेरी पत्नी की पैंटी में जाने लगे तो मैं अन्दर चला गया और मैंने विकास से कहा- डॉक्टर साहब, आपको मरीज के साथ ऐसा नहीं करना चाहिए.

डॉक्टर मुझसे कहने लगे- सर आप गलत समझ रहे हैं. मैं एक डॉक्टर हूँ और यदि आपको लगता है कि मैं आपकी बीवी के साथ कुछ गलत कर रहा हूँ, तो आप कहीं और दिखा सकते हैं.
मैंने उनकी तरफ देखा और उनसे कहा- ये क्या बात हुई?

वो मुझे लेकर बाहर आ गए.

मैंने उनसे साफ़ साफ़ शब्दों में कहा- डॉक्टर साहब, दरअसल मेरी बीवी चाहती है कि उसे कोई महिला डॉक्टर देखे. लेकिन मैं जानता हूँ कि आप एक अच्छे डॉक्टर हैं तो बस मैं उसके सामने आपको इस तरह से कह रहा था. मुझे आपकी योग्यता पर कोई शक नहीं है. मुझे आपके बारे में सविता भाभी ने बताया था कि आप महिलाओं का बढ़िया इलाज करते हैं.

डॉक्टर मिश्रा ने जैसे ही सविता भाभी का नाम सुना तो वो मेरी तरफ सवालिया निगाहों से देखने लगे.
वो बोले- आप सविता भाभी को कैसे जानते हैं?
मैंने डॉक्टर का हाथ दबाते हुए कहा- मैं सविता भाभी के कहने पर ही आपके पास आया हूँ. अब मैं बाहर चलता हूँ आप मेरी बीवी को सही से देख लीजिए.

मैंने ‘सही से देख लीजिए …’ शब्द पर कुछ विशेष जोर दिया और आंख दबा दी.
मेरे इशारे से वह भी समझ गया कि यह अपनी पत्नी को चुदवाने के लिए तैयार है लेकिन इसकी पत्नी नहीं मान रही है.

दरअसल सविता भाभी डॉक्टर मिश्रा की रखैल थीं और डॉक्टर साहब भाभी की खुलकर चुदाई कर चुके थे. इस बात की जानकारी मुझे थी और मैंने अंधेरे में तीर चला कर डॉक्टर को अपने जाल में फांसा था.

डॉक्टर साहब ने मुझसे कहा- आपकी पत्नी सच में एक सेक्सी डॉल जैसी लगती हैं और यदि मैं उनके साथ सेक्स करूं तो आपको कोई ऐतराज नहीं होगा … है ना!
मैंने कहा- जी हां. बस मैं उसके साथ आपको सेक्स करते देखना चाहता हूँ.

वो बोले- ओके मतलब छिप कर या खुले में साथ रह कर?
मैंने कहा- फिलहाल तो छिप कर देखना चाहता हूँ. बाद में स्थिति के ऊपर निर्भर करता है.

उसने ओके का इशारा किया और मुस्कुरा दिया.
अब यह तो तय था कि हम दोनों राजंती के साथ सेक्स का मजा लेना और उसे सेक्स करते देखना चाह रहे थे.

उस दिन मैं अपनी पत्नी के साथ घर वापस आ गया.
विकास ने रात को देर से मेरे पास फोन किया और कहा- तुम्हारी पत्नी बहुत ही सेक्सी है. अब मेरा लौड़ा तुम्हारी पत्नी की चूत में पानी छोड़ने के लिए तरस रहा है.

मैंने कहा- डॉक्टर, तुम चिंता मत करो तुम्हारी इच्छा पूरी होगी. बस कुछ ऐसा सोचो कि मेरी पत्नी तुम्हारे साथ सेक्स करने को मान जाए.
डॉक्टर विकास ने कहा- एक टैबलेट आती है. अगर वह टेबलेट तुम्हारी पत्नी को दे दी जाए, तो वह किसी से भी चुदवाने के लिए पागल हो जाएगी.

मैंने कहा- इसका कोई साइड इफेक्ट तो नहीं होगा?
उसने कहा- ऐसा कुछ भी नहीं होगा.

मैंने विकास से कहा- तो फिर देर किस बात की. जल्दी टैबलेट बताओ, मैं सुबह राजंती को पानी के साथ दे दूंगा.
उसने मुझे दवा का नाम बता दिया और कहा कि कल सुबह तुम मेरे हस्पताल में अपनी बीवी को भर्ती करवा देना. मैं वहीं उसका चुदाई समारोह करूंगा.

मैंने हामी भर दी और अपनी बीवी को बता दिया कि सुबह डॉक्टर विकास मिश्रा तुम्हारे पेट दर्द का इलाज करेंगे और तुम्हें सुबह सुबह मेरे साथ उनके अस्पताल चलना है.
वो मान गई.

सुबह होते ही मैंने पेट दर्द की दवा के बहाने पानी के साथ राजंती को दवा दे दी और उसे अस्पताल ले गया.

जब तक वो अस्पताल पहुंची, उतनी देर में वो एकदम से चुदासी हो गई थी.
मैं भी उसके साथ सेक्सी चुहलबाजी कर रहा था.

बिस्तर पर लेटने के थोड़ी ही देर बाद राजंती मुझे सेक्सी नजरों से देखने लगी.
उसने बेड से उठ कर सीधे मेरे लंड को पकड़ लिया.

थोड़ी देर में विकास मिश्रा ऊपर आ गए और उन्होंने देखा कि राजंती ने मेरा लंड पकड़ रखा था.
यह देखते ही डॉक्टर के पजामे में लंड ऊपर उठ गया.

राजंती ने डॉक्टर को देख लिया.
डॉक्टर को देखते ही मेरी पत्नी ने मेरा लंड छोड़ दिया.

डॉक्टर ने कहा- तुम शर्माओ मत आज तुम मेरी गर्लफ्रेंड और अपने पति की पत्नी हो.

मेरी पत्नी ने कहा- मेरी चूत में लंड डाल दो. डॉक्टर तुम आज मुझे अच्छी तरह से चोद दो. मैं बहुत तड़प रही हूँ.
डॉक्टर ने कहा- आज तो मैं तुझे घोड़ी बनाकर चोद दूंगा और अपनी गोदी में उठा कर अपने लंड को तेरे पति के हाथों से तेरी गांड में डलवा लूंगा.

डॉक्टर और राजंती की बात सुनकर मेरा लंड और ज्यादा तन गया था.

तभी डॉक्टर ने राजंती के कपड़े उतारना शुरू कर दिया.
कुछ ही देर में मेरी पत्नी सिर्फ चड्डी में थी.

चड्डी में बह बहुत ज्यादा हॉट लग रही थी. गुलाबी चड्डी राजंती को ज्यादा हॉट बना दिया था.

अब डॉक्टर ने राजंती के बूब्स दबाना शुरू कर दिया और राजंती ने डॉक्टर के लंड को अपने हाथ से पकड़ रखा था.

उन दोनों के कारनामे देखकर मेरे लंड से पानी निकल रहा था.
अब डॉक्टर ने राजंती को घोड़ी बना दिया और मुझसे कहा- मेरे लंड को तुम अपने हाथ से अपनी पत्नी की चूत में डालो.

मेरी पत्नी ने कहा- बहुत मजा आएगा, आज पहली बार किसी और से चुदवाने जा रही हूं.
मैं उसे देख कर हंस रहा था.

राजंती ने कहा- तुम हंसो मत, डॉक्टर का लंड मेरी गांड में डालो और तुम मेरे नीचे आ जाओ और नीचे तुम भी अपना लंड मेरी चूत में पेल डालो.
उसका ये कहना था तो मैंने अपने हाथों से डॉक्टर का लंड को पकड़ा.

डॉक्टर का लंड बहुत लंबा और मोटा था.
मैंने राजंती की गांड में डॉक्टर का लंड डाल दिया और मैं खुद राजंती के नीचे चला गया.

डॉक्टर ने राजंती की कमर को पकड़ रखा था और जोर जोर से झटके दे रहा था.

राजंती के मुँह से आह आह की आवाज आ रही थी.
मैं उसकी चूत में झटके दे रहा था.

राजंती दो तरफा चुदाई में मगन हो गई थी.

डॉक्टर ने राजंती की गांड से अपना लंड बाहर निकाला और अपनी गोदी में उठा लिया.
वो मुझसे बोला- मेरा लंड राजंती की चूत में डालो.

मैंने डॉक्टर के लंबे लंड को पकड़ कर राजंती की चूत में डाल दिया.
अब डॉक्टर राजंती को अपनी गोदी में लिए था और उसकी चूत में झटके दे रहा था.

मेरी पत्नी के मुँह से आवाज निकल रही थी- आह और जोर से … मेरी चूत की प्यास बुझा दो … आज मुझे तो दो दो लंड मिल गए.
मुझे उन दोनों की चुदाई को देखकर मजा आ रहा था.

डॉक्टर ने अपना लंड राजंती के मुँह में डालने की कोशिश की लेकिन मेरी पत्नी ने मना कर दिया.
डॉक्टर बोला- मेरी मदद करो.

मैंने कहा- यह मेरा भी लंड नहीं चूसती है.
डॉक्टर ने कहा- आज मैं पहली बार इसको मेरा लंड चुसवाऊंगा.

मैंने कहा- यह नहीं मानेगी.
डॉक्टर ने कहा- तुम मेरी मदद करो.

मैंने कहा- बताओ मैं क्या करूं?
वो- तुम अपनी पत्नी के दोनों हाथ पकड़ो.

मैंने अपनी पत्नी के दोनों हाथ पकड़ लिए और डॉक्टर राजंती के मुँह को पकड़ कर लंड डालने की कोशिश कर रहा था, लेकिन वह अपना मुँह नहीं खोल रही थी.
डॉक्टर ने कहा- तुम अपना लंड राजंती की चूत में डालो.

मैंने राजंती की चूत में लंड डाला और जोर से झटका मारा.
उसी वक्त राजंती का मुँह आह करने लगा और डॉक्टर ने अपना लंड राजंती के मुँह में डाल दिया.

डॉक्टर बोलने लगे- ओह क्या रसीला मुँह है … बहुत आनन्द आ रहा है. पहली बार लंड चुसाई के लिए टाइट सेक्सी माल मिली है.

डॉक्टर ने कुछ देर लंड चुसवाने के बाद मेरे ही सामने राजंती को घोड़ी बनाया और चोदने लगा.
फिर उसने अपने लंड को बाहर निकाल कर मेरी पत्नी की चूत में लंड डाल दिया.

कुछ देर बाद वो मेरी बीवी की चूत में झड़ गया.

लंड झाड़ने के बाद वो मुझसे बोला- मैंने अपने लंड का पानी तुम्हारी पत्नी की चूत में निकाल दिया है. कोई दिक्कत तो नहीं है न!
मैंने कहा- अरे यार तुम डॉक्टर हो. दवा दे देना.
वो हंस दिया.

अब तक राजंती बहुत थक चुकी थी.
मैंने डॉक्टर को धन्यवाद दिया.

डॉक्टर ने भी मुझे धन्यवाद दिया और कहा- आपका धन्यवाद दोस्त, इससे तुम्हारा और तुम्हारी पत्नी तुम दोनों का का रिश्ता और भी गहरा होगा.

अब कभी कभार महीनों में मौका मिलता है तो डॉक्टर से राजंती की चुदाई करवा लेता हूं.
हम दोनों ही अपनी लाइफ को बहुत इंजॉय करते हैं.

मेरी पत्नी अब पूरी तरह से खुल चुकी है.
मैं ककोल्ड हसबैंड वाइफ सेक्स के लिए और कोई दूसरा लंड भी ढूंढ रहा हूं.

अगली सेक्स कहानी में बताऊंगा कि मेरी बीवी की चुदाई करने वाला भाग्यशाली लंड किसका था.
इस ककोल्ड हसबैंड वाइफ सेक्स कहानी में आपको मजा आया होगा.
अपने विचार मुझे बताएं.
[email protected]

Check Also

पति पत्नी की चुदास और बड़े लंड का साथ- 2

थ्रीसम डर्टी सेक्स का मजा मैंने, मेरी पत्नी ने एक किन्नर किस्म के आदमी या …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *