सुहागरात में बीवी की चुत चुदाई और प्यार

मेरी सुहागरात Xxx कहानी में पढ़ें कि मेरी शादी खूबसूरत लड़की से हुई. शादी से पहले ही हम फ़ोन सेक्स करते थे. मुझे पता चल गया था कि मेरी बीवी गर्म माल है.

नमस्कार दोस्तो … ये मेरी सुहागरात Xxx कहानी है, जो मेरे जीवन की सारी भावनाओं का सार है. मैं आपके सामने प्रस्तुत करने का प्रयास कर रहा हूँ.

मेरा नाम राहुल है. मेरी उम्र 30 साल है. मैं एक प्राइवेट कंपनी में अच्छी सी जॉब करता हूँ.

मैं दिल्ली में अपनी बीवी नेहा के साथ रहता हूँ. नेहा बड़ी सुन्दर है और उसकी उम्र 27 साल है. मेरी और नेहा की शादी अभी हाल ही में हुई है. तो हम दोनों के बीच प्यार और प्यार में खुमार बहुत ज्यादा रहता है. मेरी बीवी को सेक्स बहुत पसंद है. उसे सेक्स में हवस और गंदा सेक्स अच्छा लगता है.

शादी से पहले हम लोगों ने फ़ोन सेक्स बहुत बार किया था … इस दौरान हर बार मेरी बीवी को गाली सुनकर सेक्स करना अच्छा लगता था. मुझे भी ये सब बहुत पसंद है.

कुल मिला कर हम दोनों मियां-बीवी सेक्स चैट करते समय पूरे हब्शी हो जाते थे. इसका पता दोनों को हमारी सुहागरात में ही चल गया था.

अब आपको सबसे पहले अपनी सुहागरात Xxx की बात बताता हूँ.

यूँ तो पहले मैंने बहुत चुदायी की है. लेकिन अपनी बीवी को चोदने का मजा ही कुछ और है … और वो भी तब, जब घर में सब लोग मौजूद हों.

सुहागरात वाले दिन, रात के दस बज रहे थे. मेरी भाभी मुझे मेरे कमरे के दरवाजे पर लेकर गईं. मेरे कमरे में मोगरे के फूलों की लड़ियां लटक रही थीं. गुलाब के फूलों से बिस्तर के बीचों बीच दिल के आकार का डिजायन बना हुआ था.

बिस्तर के एक किनारे मेरी बीवी खूबसूरत सी साड़ी पहन कर मेरा इन्तजार कर रही थी.

एक अजीब सी कसक उसके और मेरे दिल में उठी, जब मैंने कमरे का दरवाजा बंद किया.

हम दोनों का दिल जोर जोर से धड़क रहा था कि अब क्या क्या होगा.

मैं बिस्तर पर बैठ गया और अपनी बीवी के घूंघट को उठा कर उसे देखने लगा. मेरी बीवी का ब्लाउज बहुत गहरे गले का था, जिसमें से उसकी सुडौल चुचियों की दरार मुझे उकसा रही थी.

फिर मैंने उसके पल्लू को सर पर रख कर उसके चेहरे को ऊपर उठाया. अब मेरी बीवी ने धीरे धीरे अपनी आंखों को खोला और मुझे देख कर मुस्कुराई.

मैंने अपनी तरफ से मुँह दिखायी दी, जिसे पाकर बीवी खुश हो गयी.

फिर मेरी बीवी ने दूध का ग्लास मेरी तरफ बढ़ा दिया. मैंने दूध का ग्लास अपनी बीवी के होंठों से लगा दिया और उससे पीने को बोला.

उसने मुस्कुराते हुए गिलास में होंठ लगा कर मेरी तरफ बढ़ा दिया. मैंने भी दूध पीया और उसे पिला दिया.

फिर धीरे धीरे मैं उसके पास जाने लगा और उसके होंठों पर लगे हुए दूध को अपनी जीभ से चाट लिया.

मेरी बीवी थोड़ा कसमसा गयी.

फिर मैंने दूध का ग्लास खत्म किया और बीवी से बोला- मैं तुमको अपनी बांहों में लेना चाहता हूँ.
वो बोली- मैं भी आपकी बांहों में समाना चाहती हूँ.

इसके बाद हम दोनों जमीन पर खड़े हो गए और मेरा हाथ मेरी बीवी की कमर में चला गया. मेरे हाथ से उसके नंगी कमर का स्पर्श बहुत ही उत्तेजित करने वाला था. जिसे महसूस करके मेरी बीवी सिहर गयी और मेरी बांहों में आकर मुझसे चिपक गयी.

अब मेरी बीवी मेरे सीने से चिपकी हुई थी. उसकी मदमस्त चुचियां मेरे सीने में चुभ रही थीं. मेरी बीवी के ब्लाउज में पीछे सिर्फ एक डोरी थी … जिससे मेरा हाथ उसकी नंगी कमर को और नंगी पीठ को सहला रहा था.

मैंने धीरे धीरे अपनी बीवी का पल्लू नीचे कर दिया और उसकी गर्दन को चूमते हुए उसके गहने उतारने लगा.

मैंने जिस जिस अंग से जो उतारा, वहां वहां पर अपने होंठों से चूम लिया. कुछ ही देर में मेरे होंठ मेरी बीवी के गाल पर आ गए थे. मैंने अपनी बीवी का चेहरा थाम लिया और पहले उसके माथे पर, फिर नाक पर, फिर दोनों गालों पर बारी बारी से चूम लिया.

अब मैं अपनी बीवी का चेहरा देख रहा था और वो आंख बंद करके अपने होंठों पर मेरे होंठों का इन्तजार कर रही थी.

उसके होंठ किसी गुलाब की तरह दिख रहे थे. जिसे बिना चूमे जी पाना मुश्किल था. मैं अपने होंठों को धीरे धीरे उसके पास ले गया और अपनी सांसों को अपनी बीवी की सांसों से महसूस करने लगा.

अगले ही पल मेरे होंठ मेरी बीवी के रसीले होंठों से चिपक गए और मैं अपनी बीवी के रसीले होंठों को चूम रहा था.

मेरी बीवी मेरी बांहों में और सिमट गयी और मेरे होंठों को काटने लगी. मेरे हाथ मेरी बीवी की नंगी पीठ को सहला रहे थे और मेरे होंठ उसके होंठों को चूस रहे थे. मेरे मुँह का थूक उसके मुँह में जा रहा था, जिसे वो मजे से पिए जा रही थी.

बारी बारी से हम दोनों एक दूसरे की जीभ को मुँह में डाल कर चुसवा रहे थे. मेरी बीवी की भूख बता रही थी कि वो बहुत उत्तेजित हो गई है.

अब मैंने बीवी के होंठों को चूमते हुए उसकी साड़ी को उसके जिस्म से अलग कर दिया. उसकी नंगी पीठ को रगड़ते हुए उसके मुँह के अमृत को चाट रहा था और होंठों को चूस रहा था.

धीरे धीरे मेरे हाथ उसकी चुचियों पर आ गए. मैं प्यार से मम्मों को सहलाने लगा. इसके बाद मैंने धीरे धीरे अपनी बीवी के ब्लाउज का एक एक हुक खोल दिया … और ब्लाउज को उसके जिस्म से अलग कर दिया.

अब मेरी बीवी सिर्फ ब्रा में मेरी बांहों में थी और मैं उसके पीठ की सहलाते हुए उसके होंठों को चूस रहा था. उसके बड़े बड़े दूध मेरे लंड को और टाइट कर रहे थे. मेरा लंड कपड़ों के ऊपर से उसकी चूत को चूम रहा था.

कमरे की लाईट जल रही थी, जिसमें मैं अपनी बीवी की लाल रंग की जालीदार ब्रा को आराम से देख सकता था.

मैं झुक कर अपनी बीवी के मम्मों के बीच में चाटने लगा. ये मेरी बीवी को बहुत अच्छा लग रहा था.

वो मेरे सर पर हाथ रख कर अपने चूची को चुसवाने के लिए दबाने लगी.

मैं उसके मम्मों को चाट रहा था और मेरे हाथ मेरी बीवी के पेटीकोट को खोल रहे थे.

पेटीकोट खुलने के बाद वो अपने आप नीचे गिर गया और मेरी बीवी अब सिर्फ ब्रा पेंटी में खड़ी थी. ऐसा लग रहा था, जैसे कोई अप्सरा अपनी प्यास बुझाने आयी हो.

उसे इस रूप में देख कर मैंने अपने कपड़े उतार दिए और सिर्फ चड्डी में आ गया. मेरी चड्डी में मेरा खडा लंड मेरी बीवी आराम से महसूस कर सकती थी. मैंने अपनी बीवी को फिर से दबोच लिया और उसके होंठों को गर्दन को चूमने और चाटने लगा.

मैं- नेहा तुम बहुत खूबसूरत हो.
नेहा- मेरा सब कुछ आपके लिए है … आप मेरी जान हैं.
मैं- नेहा, मैं तुमको नंगी देखना चाहता हूँ.
नेहा- मुझे नंगी कर दीजिये और जो देखना हो देख लीजिये … मेरा सब आपका है जान.

मैंने अपनी बीवी की ब्रा को खोल दिया और उसकी मम्मों को आजाद कर दिया.

उसकी चूचियां बिल्कुल गोल और उठी हुई थीं. मेरी बीवी के मम्मों के निप्पल बहुत टाइट थे, जिनको मैं अपने हाथों से सहला कर देखने लगा.
मेरी बीवी के चुचों की साइज़ 32 इंच की थी, जो बहुत ही प्यारी लग रही थी.

अब मैं अपनी बीवी के मम्मों को सहला रहा था और प्यार से उसके होंठों चूसे जा रहा था.
मेरी बीवी- अपने हाथों की ताकत को दिखाइए ना.

मैं समझ गया कि मेरी बीवी अपनी चुचियों को जोर से दबवाना चाहती है. मैं दोनों हाथों से जोर जोर से अपनी बीवी के मम्मों को दबाने लगा और उसके दोनों निप्पलों को झुक कर बारी बारी से चूसने लगा.

मेरी बीवी को अपने दोनों निप्पलों चुसवाने में बड़ा मजा आ रहा था. उसने मेरे सर को कस कर पकड़ लिया और उसे अपने मम्मों में दबा लिया.
नेहा- आंह … काट लीजिये जान इनको. खा जाईए मेरे बूब्स को.

मैंने धीरे से अपने दांतों में अपनी बीवी के एक निप्पल को दबा लिया और हल्का हल्का काटने लगा.

इससे मेरी बीवी सिहर गई और उसने मुझे जोर से मुझे पकड़ लिया.

फिर मुझे बिस्तर पर गिराते हुए उसने मुझे अपने ऊपर लिटा लिया.

मेरी बीवी ऊपर से पूरी नंगी थी और मेरे मुँह में उसकी एक चुची दबी हुई थी. मैं उसकी चुची को चूसते हुए, दूसरी चुची को मसल रहा था.

फिर मैं धीरे से नीचे को हुआ और उसके पेट पर चाटने लगा. इससे उसको और उत्तेजना मिलने लगी थी.

मैं अपनी बीवी की नाभि में जीभ घुसा कर चाटने लगा. मेरी बीवी ऊपर से पूरी नंगी होकर बिस्तर पर आधा लेटी हुई थी. उसकी चूत उसके जालीदार पेंटी के अन्दर से झांक रही थी और मुझे बुला रही थी.

मैं अपनी बीवी की नंगी टांगों के बीच बैठ गया और पेंटी के ऊपर से ही उसकी चूत को सूंघने लगा. एक बेहतरीन सी चूत की महक मुझे पागल करने लगी और मैंने पेंटी के ऊपर से ही अपने जीभ से बीवी की चूत को चाट लिया.

इससे मेरी बीवी और सिहर गयी और अपनी दोनों टांगों के बीच मुझे जकड़ लिया, जिससे मेरा मुँह पेंटी के ऊपर से ही अपनी बीवी के चूत पर लग गया.

कुछ ही पलों में मेरी बीवी की चूत ने अपना रस निकाल दिया, जिसे मैंने पेंटी के ऊपर से ही चूस लिया था.

अब मैं अपनी बीवी की पेंटी को अपने दांतों में दबा कर नीचे खींच दिया और उसे पूरा उतार दिया.

मेरी बीवी की छोटी सी मुलायम सी, बिना झांटों वाली बिल्कुल गीली चूत मेरे सामने थी. मैंने अपनी बीवी की चूत को सूंघना शुरू कर दिया.
जब मेरी गर्म सांसें मेरी बीवी की चूत में जा लगीं तो इससे वो फिर से उत्तेजित हो गयी. मेरे बीवी की चूत बहुत गीली हो गयी थी, तो मैं उसे चाट चाट कर साफ करने लगा.

कुछ देर कुंवारी बुर का मजा लेने के बाद मैं सीधा खड़ा हो गया और नंगी बीवी को उठा कर बिस्तर पर बिठा दिया.

मेरी बीवी समझ गयी कि अब उसे क्या करना है.

उसने मेरी चड्डी को नीचे करके मेरा 6 इंच का लंड बाहर निकाल लिया और उसे हाथ में पकड़ कर देखने लगी.

लंड मेरी बीवी की कमजोरी है, जिसे वो एक बार देख ले, तो बिना लंड चूसे नहीं रह पाती है … ये बात मैं जानता था.

वो लंड देख कर पागल हो जाती है और उसको चूसने के लिए वो कुछ भी कर सकती है.

मेरी नंगी बीवी ने मेरे लंड को अपने नाक पर लगा कर सूंघा और फिर धीरे से होंठों को लंड पर लगा दिया. कुछ ही पलों बाद मेरी बीवी ने अपना मुँह खोल कर लंड को अपने मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया.

मैंने उसके बाल पकड़ कर उसके गले तक लंड पेल दिया, जिससे उसको खांसी आने लगी. मैंने लंड निकाल लिया. मेरी बीवी ने हवस भरी निगाहों से मुझे देखा.

मैं- क्या देख रही है साली!
नेहा- आपका लंड बहुत मस्त है.
मैं- साली चूसेगी हमेशा मेरा लंड ना!
नेहा- हां जान … मैं आपके लंड को खा जाऊंगी.

अब मेरी बीवी ने मेरे लंड पर थूक दिया और उसके मुँह का लार मेरे लंड पर बह रहा था. जिसे मेरी बीवी अपनी जीभ से चाट रही थी. इसके बाद मैंने अपनी बीवी के मुँह में पूरा लंड पेल दिया.

मैं- चूस ले साली रंडी.

मेरी बीवी गुं गुं करते हुए लंड को मन से चूस रही थी और चाट रही थी.

मैं हाथ बड़ा कर अपनी बीवी के चुचियों को मसल रहा था और अपनी बीवी से लंड चुसवा रहा था.

मैं- साली मादरचोद रंडी … सिर्फ लंड को चुसेगी या इससे चुदेगी भी सुहागरात में?
नेहा- आपकी रंडी बीवी तैयार है चुदवाने के लिए.

अब मैंने अपनी बीवी को बिस्तर के बीचों बीच गुलाब के फूलों पर लिटा दिया और एक बार फिर से उसकी चूत को चाट कर गीला कर दिया. इससे मेरी बीवी एकदम से उत्तेजित हो गयी और मेरे बालों को पकड़ कर खींचने लगी. मैं अपनी बीवी के नंगे जिस्म पर लेट गया.

मैं- साली रांड … मेरा लंड चूत में लगा ले.

मेरी रंडी बीवी ने लंड को चूत पर सैट कर लिया और बोली- चोद दीजिए अपनी रंडी बीवी को.

मैंने अपनी बीवी के मुँह में मुँह डाल दिया और एक जोर का धक्का देकर लंड उसकी चूत में घुसा दिया.

मेरी बीवी दर्द से चीख उठी- आआह्ह्ह मम्मी … फ़ट गयी मेरी चूत.
मैं- क्या हुआ साली रंडी … ज्यादा दर्द हो रहा है क्या?
नेहा- जान मर जाऊंगी … लंड निकाल लीजिये.
मैं- चुप कर साली भोसड़ी वाली … तुझे चोदने के लिए ही लाया हूँ रांड.

मुझे मालूम था कि मेरी बीवी xxx गाली सुन कर और ज्यादा उत्तेजित हो जाती है … और ऐसा ही हुआ. मेरा आधा लंड मेरी बीवी की चूत में घुसा हुआ था और मेरी बीवी नंगी होकर मेरे होंठों को चूस रही थी.

अब मैंने धीरे धीरे अपनी बीवी की चूत में आधे लंड से चोदना शुरू कर दिया … इससे मेरी बीवी को बहुत दर्द हो रहा था.

नेहा- जान मत कीजिये … बहुत दर्द हो रहा है.
मैं- अभी ठीक हो जायेगा रंडी.
नेहा- अब लाईट बंद कर दीजिए.

मैंने सोचा अंधेरे में शायद सेक्स का नशा ज्यादा होगा, तो लाईट को बंद कर देना चाहिये.

बिजली बंद करने जैसे ही मैं बिस्तर से उठा … मेरे लंड से मेरी बीवी की चूत से निकल गया और उसकी चुत से खून गिरने लगा. खून देख कर मेरी बीवी डर गयी और रोने लगी.

फिर मैंने लाईट बंद की और अपने लंड को और अपनी बीवी की चूत को अच्छे से पौंछ कर उस पर नारियल का तेल लगा दिया. फिर मैं अपनी नंगी बीवी को बांहों में लेकर लेट गया.

मैं- नेहा पहली बार में ऐसा सबके साथ होता है.
नेहा- नहीं … आपके उससे मेरी चूत फ़ट गयी है.

मैंने अपनी बीवी के चूत को सहलाना शुरू कर दिया और उसके होंठों को चूसने लगा. धीरे धीरे मैं अपनी बीवी के नंगे जिस्म को सहलाने लगा, जिससे मेरी बीवी और उत्तेजित होने लगी.

अब मैं अपनी बीवी के ऊपर आ गया.

मैं- साली रंडी चुदवाएगी न दुबारा?
नेहा- हां पेल दीजिए अपना लंड अपनी रंडी बीवी के चूत में और खूब गाली दीजिए.
मैं लंड को उसके चूत में पेलते हुए बोला- ले साली रांड कुतिया हरामजादी मादरचोद साली … लंड ले.

इस बार मेरा लंड पहले से ज्यादा अन्दर घुस गया था और मेरी रंडी बीवी मेरे जिस्म से चिपक कर चुद रही थी.

मैं जोर जोर से अपनी बीवी को चोद रहा था और उसे गाली दे रहा था- साली रंडी, तेरी चूत को आज भोसड़ा बना दूंगा छिनाल साली … जिन्दगी भर तुझे अपनी रंडी बना कर चोदूंगा … तुझे हमेशा अपने लंड की सवारी कराऊंगा.
नेहा- आअह्ह आह्ह्ह चोद दीजिए जोर जोर से … मैं आपकी रंडी बीवी हूँ. सब लोग आकर आपकी रंडी बीवी की चूत मार लेंगे … आह्ह आअह्ह और जोर से फाड़िये मेरे भोसड़े को.

मैं- हां साली भोसड़ी वाली रंडी. साली तू सबसे चुदवा चुदवा कर रंडी बन जाएगी मादरचोदी.
नेहा- आहह मजा आ रहा है आपके लंड से … आपकी रंडी बीवी की चूत फ़ट गयी है … उन्ह … बना दीजिए भोसड़ा इसको … आह आह्ह्ह फ़ाड़ दीजिए मेरी चूत को … आह और जोर से पेलिए.
मैं अपनी स्पीड बढ़ा कर चोदते हुए बोला- साली मुँह खोल रंडी.

मेरी बीवी ने मुँह खोल दिया और मैं उसके मुँह में थूकने लगा. मेरी रंडी बीवी थूक को पी रही थी और चूत में लंड ले रही थी.

मैं- साली रंडी थूक पी ले मादरचोद … फिर तेरे मुँह में लंड का पानी डाल कर पिलाऊंगा साली … भोसड़ी वाली.
नेहा- पिला दीजिए लंड का माल. आपकी रांड बीवी प्यासी है लंड लेने के लिए. आअह्ह्ह आआह्ह मेरा निकल रहा है. आहह जान … मेरी चूत को बहुत मजा आ रहा है.

अब मेरी रंडी बीवी ने मुझे कस कर जकड़ लिया और अपने चूत को सिकोड़ कर पूरा चूत रस निकाल दिया. यह मेरी xxx सुहागरात की पहली चुदाई थी.

मेरे लंड का पानी अभी भी नहीं निकला था, तो मैं अपनी बीवी को जोर जोर से चोद रहा था. मगर मेरी बीवी अब थक गयी इसलिए वो शिथिल होकर सीधी लेट गई.

मैंने लंड चूत से बाहर निकाल लिया और बाथरूम में जाकर मूतने लगा. फिर मैं लंड को पानी से धो कर बाहर आया.

मैं अपनी बीवी से बोला- साली रंडी मेरा लंड चूस.
मेरी बीवी को दुनिया में सबसे ज्यादा अच्छा लंड चूसना लगता है.

वो तुरंत नंगी ही उठ कर बैठ गयी और लंड को जोर जोर से चूसने लगी. मैंने अपनी बीवी के बाल को पकड़ कर उसके मुँह में लंड ठेल दिया, जिसे उसने ख़ुशी ख़ुशी गले तक ले लिया. फिर लंड बाहर निकाल कर लंड पर थूक कर चूसने लगी.

मैं- साली रांड बहुत अच्छा लंड चूसती है. कहां से सीखा है रंडी.
नेहा लंड मुँह में लिए लिए बोल रही थी- आंह मेरी जान, मैंने गंदी मूवी देख कर सीखा है.
मैं- साली रंडी … उसमें तो लड़कियां बहुत लोगों का लंड चूसती हैं … तू भी चुसेगी दूसरों का लंड?

मेरी रंडी बीवी ने मुस्कुराकर मुझे देखा और लंड को चाटना शुरू कर दिया. मैं समझ गया कि अगर मौका मिला, तो मेरी रंडी बीवी बहुत सारे लंड एक साथ चूस लेगी.

कुछ देर बाद मेरी बीवी की चूत दुबारा तैयार हो गयी थी … तो वो मेरे ऊपर चढ़ गयी और लंड को चूत पर सैट करके धीरे धीरे पूरा लंड चुत के अन्दर ले लिया.

नेहा- आआह्ह बहुत मस्त लंड है आपका. फ़ाड़ देता है मेरी चूत को.

मैं अपनी बीवी की चुचियों दबाते हुए कहने लगा- मादरचोद रंडी तेरी चूत भी मस्त है … इसको भोसड़ा बना कर सबसे चुदवा दूंगा रांड.
नेहा- आअह्ह मजा आ रहा है. चोदिये अपनी रंडी बीवी को … सब लोग मेरा भोसड़ा मारेंगे … खूब चुदवायेगी आपकी रांड बीवी … आहह आह्ह्ह मजा आ रहा लौड़े से.

मैं- हां साली रंडी तुझे नंगी करके रोड पर सबके सामने चोदूंगा साली मादरचोद भोसड़ी वाली.
नेहा- आहह आअह्ह्ह सब लोग हमको देख कर अपना लंड हिलाएंगे जान … मजा आयेगा … आह्ह्ह आहह और जोर से चोदिये. आपकी रंडी बीवी को मजा आ रहा है जान.

अब मेरी बीवी की चूत और मेरा लंड दोनों फूलने लगे थे.

नेहा- आअह आह्ह्ह जान मेरी चूत का रस निकल रहा है. आह्ह्ह आह्ह्ह और जोर से और जोर से चोदिए अपनी बीवी को … आह्ह मैं आपकी रंडी हूँ जान. चोद दीजिए मुझे … बहुत सारे लंड से चुदवा लूंगी … आअह्ह मेरा रस निकल गया.

मेरी बीवी की चूत का रस मेरे लंड पर निकल गया. मेरे लंड का लावा भी निकलने वाला था, तो मैंने जल्दी से लंड निकाल कर अपनी बीवी के मुँह में डाल दिया. मेरी बीवी ने मेरे लंड का पूरा माल पी लिया और जल्दी से पानी पीकर उसे निगल लिया.

अब हम दोनों बिस्तर पर नंगे ही लेट गए और एक दूसरे के नंगे जिस्म को सहलाने लगे.

फिर हमने एक दूसरे के होंठों पर होंठों रख दिया और चूसते हुए ही सो गए.

आगे कैसे मेरी बीवी ने मुझे मस्त किया … कैसे मैंने उसकी गांड को फ़ाड़ दिया. ये आपको आगे आने वाली Xxx कहानी में बताऊंगा. तब तक के लिए नमस्कार.
मेरी सुहागरात Xxx कहानी कैसे लगी? कमेंट्स कीजिएगा.
[email protected]

Check Also

पति पत्नी की चुदास और बड़े लंड का साथ- 2

थ्रीसम डर्टी सेक्स का मजा मैंने, मेरी पत्नी ने एक किन्नर किस्म के आदमी या …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *