साढू को दारू पिलाकर साली की चूत चुदाई

Xxx जीजा साली सेक्स कहानी मेरी और मेरी छोटी साली के बीच की है. गोवा में हम दोनों ने फुल नाइट सेक्स किया और उसके बाद मैंने उसे अपनी रखैल बना कर एंजाय किया.

मेरा नामे जल्पेश कुमार है. मैं मुंबई में रहता हूँ और मेरी उम्र 35 साल है.

मैं विवाहित हूँ मेरा और मेरी वाइफ का एक बच्चा है.
मेरा खड़ा लंड 7 इंच का है.

मुझे फ़ोरप्ले बहुत पसंद है, खास कर किस करना और बूब्स चूसना.
लड़की के बालों के साथ खेलना और अपना लंड चुसवाना मुझे बहुत पसंद आता है.

Xxx जीजा साली सेक्स कहानी मेरी साली दीप्ति की चूत चुदाई की है और वह मेरे घर से थोड़ी दूरी पर रहती है.
उसके दो बच्चे हैं.
उसकी उम्र 40 साल है व साइज़ 36-32-38 का है.
वह एक जबरदस्त माल है.
मैं शादी से पहले से ही उसे पसंद करता था और चोदना भी चाहता था.

हम दोनों की फैमिली ने फरवरी में गोवा जाने का प्लान किया था.
फिर 12 फरवरी को हम लोगों ने ट्रेन पकड़ी और 13 को सुबह गोवा पहुंच गए.

वहां होटल में रूम बुक किए और दोनों फैमिली अपने अपने कमरों में चली गईं.

मैंने इस बार किसी तरह से अपनी साली के साथ सेक्स करने का मन बना लिया था.
वह भी जानती थी कि मैं उसे पसंद करता हूँ और उसे चोदना चाहता हूँ.

हम लोग 13 तारीख को गोवा में काफ़ी घूमे लेकिन बीच पर जाने का 14 को रख दिया था.
हम लोग उठे और नाश्ता आदि करके बीच पर आ गए.

चौदह फरवरी को वैलेंटाइन डे था. पूरे गोवा में धूम मची थी और जवान लड़के लड़कियों के लगभग नंगे झुंड सामने आ जा रहे थे।
केवल बिकनियों में एक से बढ़ कर एक लौंडियों को देख कर मेरा लंड काबू में नहीं था.

ये सब देख कर मेरी साली भी चुदासी नजरों से मुझे देख रही थी.
उधर हम सभी ने खूब एंजाय किया.

समुद्र में नहाते समय मैंने अपनी साली के जिस्म को छूकर और मसल कर उसे जताया दिया था कि आज मेरे उसे चोदने का कितना ज्यादा मूड है.

पानी में नहाने का मजा बच्चों ने भी काफ़ी उठाया और वो सब काफी थक गए थे.

शाम को हम सब होटल वापस आ गए और अपने अपने रूम में चले गए.
हम सब काफी थक गए थे.

होटल में ही बार और रेस्टोरेंट था तो हम सभी ने वहां खाने का और पीने का प्रोग्राम बनाया.

हम लोग वैसे शराब या बियर पीने के आदी नहीं हैं … लेकिन सिर्फ उसी दिन पीने का प्लान बनाया.
साथ में बच्चे होने की वज़ह से काफ़ी मुश्किल हो रहा था.

तब मेरी साली के हज़्बेंड ने प्लान बनाया कि बच्चों को होटल में डिनर करवा के उन्हें सुला देते हैं.
फिर हम लोग बार में आ जाएंगे और दारू डांस वगैरह का मजा करेंगे.
हम दोनों कपल ने वैसे ही किया.

हम करीब दस बजे बार में पहुंचे.
मैंने टी-शर्ट और जींस पहनी थी और मेरी वाइफ ने भी ऐसे ही कपड़े पहने हुए थे.

जबकि मेरी साली ने टॉप और जींस ओर साली के हज़्बेंड ने फॉर्मल पहने थे.

जाते ही हमने टेबल पकड़ी और अपने पैग सैट करके डांस फ्लोर पर आ गए.
हम सब लोगों ने डांस किया.

मैंने अपनी साली के साथ खूब डांस किया और उसके ऊपर हाथ फेरने के मज़े लिए.
वो उसी समय समझ गई थी कि मेरी दबी हुई कामना क्या कह रही है.

शराब का सुरूर भी साथ में ही चढ़ रहा था.
डांस फ्लोर के पास ही लगी हमारी टेबल पर हमारे जाम पर जाम सजते जा रहे थे जिन्हें हम लोग डांस करते हुए आते और होंठों से लगा कर शराब का सिप ले लेते.

यही सब करते हुए हम सभी को नशे की मस्ती चढ़ गई थी.
देखते देखते साढ़े ग्यारह बज गए.

हम दोनों ने थोड़ा और ड्रिंक्स लिया और रूम में आने का फ़ैसला किया.

मैंने सोचा कि आज मौका अच्छा है, अगर मै अपनी बीवी और साली के पति को ज़्यादा ड्रिंक पिला देता हूँ, तो मै साली को चोद सकता हूँ.

डांस के बाद हम खाना खाने के लिए बैठ गए.

उसी वक्त साली से मेरी नजरें मिलीं.
उसकी आँखों में वासना की खुमारी दिख रही थी.

मैंने उससे नजरें मिलाईं तो उसने मुझे आँख मार दी और अपने होंठों पर जीभ फेर कर एक सेक्सी सा इशारा किया.
मैं समझ गया कि आज इसकी चूत में भी कीड़ा रेंग रहा है.

मैंने कहा- अभी ड्रिंक में मजा नहीं आया. एक एक पैग और हो जाए. क्यों साली जी क्या कहती हो?
उसने भी कहा- हां जीजा जी, मुझे तो कुछ खास चढ़ी ही नहीं है.

सबकी हामी मिलते ही मैंने वेटर को इशारे से बुलाया और उससे चार पैग लगाने को कहा.
वह सर हिला कर चल गया.

मैं पेशाब करने के बहाने से उठाया और उस वेटर को समझाया कि दो पैग पटियाला कर देना और दो लाइट.
उसने समझा कि शायद मर्दों के लिए मैं पटियाला पैग के लिए कह रहा हूँ और महिलाओं के लिए लाइट पैग की कह रहा हूँ.
उसने हामी भर दी और मैं वापस आ गया.

जैसे ही वो पैग लाया. मैंने फट से दोनों पटियाला पैग अपनी बीवी और साली के पति की तरफ सरका दिए.

वेटर ने कुछ कहना चाहा तो मैंने उसे अपने पैर से कुरेद कर चुप रहने का इशारा कर दिया.

वह कुछ नहीं बोला और जाने लगा.
जाने से पहले उसने कुछ और लाने के लिए पूछा.

मैंने उससे कह दिया कि एक हाफ बोतल और ले आओ, हम लोग अपने पैग खुद बना लेंगे.
वह सर हिला कर चला गया और जल्द ही एक हाफ रख गया.

मेरी बीवी और साली के पति ने अपने पैग लेते हुए कहा- ये कुछ ज्यादा ही स्ट्रॉंग लग रहे हैं.
तो मैंने कह दिया कि अब चल कर सोना ही तो है … पी लो.

मेरी साली मेरी ओर देख रही थी, शायद वह समझ गई थी कि ये मैंने खेल खेला है.

शराब पीने के बाद वो दोनों टल्ली हो गए और किसी तरह खान खत्म करके हम सब कमरों की तरफ आने लगे.
मैंने वह बोतल उठा ली थी.
उस वक्त तक मैं और साली पूरे होश में थे, जबकि मेरी बीवी को तो मुझे सहारा देकर ले जाना पड़ रहा था.

उधर साली का पति भी काफी लड़खड़ा रहा था और मेरी साली उसे सहारा दी हुई थी.
उसी बीच मेरी नजरें एक बार फिर से साली से मिलीं और हम दोनों मुस्कुरा दिए.

मैंने इशारे से उससे सेक्स के लिए कहा, तो वो अपने एक हाथ से अपनी चूचियाँ मसलती हुई मुझे देखने लगी.
मैं समझ गया कि आज साली मेरे लौड़े के नीचे आने को राजी है.

फिर मै अपनी वाइफ को होटल के अपने कमरे में ले गया.
बिस्तर पर सारे बच्चे एक साथ सो रहे थे तो मैंने बीवी को वहां पड़े सोफे पर सुला दिया.

वो नशे में हिलने की हालत में नहीं थी.
सोफ़े पर लिटाते ही उसकी आंखें बंद हो गई थीं.

मैं वहां से अपनी साली के कमरे में आया तो देखा कि साली का पति अब भी बुदबुदा रहा था.

साली एक ओर खड़ी मेरी तरफ देख रही थी.
मैंने साली को बोतल दिखाते हुए इशारा किया.

वो मेरे पास आई और बोतल खोल कर एक नीट पैग बना कर अपने पति को पिलाने लगी.

उस समय उसका पति सोफ़े पर अधलेटा सा बैठा था.
साली मेरी तरफ अपनी गांड हिलाती हुई अपने पति को दारू पिला रही थी.

उस समय साली की हिलती हुई गांड मुझे कुछ इशारा कर रही थी.
मैं समझ गया और उसकी गांड से अपना लंड लगा कर खड़ा हो गया.

उसकी गांड और जोर से हिलने लगी और मेरे लंड से रगड़ कर उसे खड़ा करने लगी.

साली ने अपने हाथों से अपने पति को अपनी कसम देकर शराब पिलाई.
वह अब फुल नशे में हो गया था और सोफ़े पर लुढ़क गया था.

अब साली का पति सोफे पर सोया पड़ा था और मेरी साली बेड पर लेट कर मुझे देख रही थी.
मैं थोड़ी देर उसकी खूबसूरत को देखता रहा लेकिन ज़्यादा देर ना करते हुए मै उसके पास गया और उसके होंठों पर किस करने लगा.
वह भी Xxx जीजा साली सेक्स में मेरा साथ देने लगी.

मैंने उसे थोड़ा सा उठाया और उसका टॉप निकाल दिया; फिर जींस भी.
वह काले रंग की ब्रा और ब्लू पैंटी में पड़ी थी.

क्या गज़ब की कयामत लग रही थी वह!

मैंने भी उसके पति की तरफ देखते हुए अपनी टी-शर्ट, जींस उतार कर एक तरफ फेंक दी और अंडरवियर में आ गया.
मैंने साली के कपड़ों को खोल दिया और उसको देखा.

वह अंगड़ाई लेती हुई मुझे वासना से देख रही थी.

मैंने उसकी टांग से चाटना और चूमना शुरू किया.
मैं नीचे से धीरे धीरे ऊपर आने लगा और उसे बड़ी बेताबी से चूमता जा रहा था.

वह भी कसमसा रही थी और मेरे सर में हाथ फेर रही थी.
मैं उसके पैरों को चाटते हुए उसकी जांघों पर आया और उसकी चूत पर आ गया.

उसकी ब्लू कलर की चड्डी एकदम गीली हो गई थी और चूत के रस की मस्त महक आ रही थी.

मैंने उसकी चड्डी की इलास्टिक में हाथ फँसाए और उसे नीचे को खींचने लगा.
उसने अपनी गांड उठा दी, जिससे कि चड्डी निकालने में मुझे आसानी हो जाए.

मैंने एक झटके में पैंटी निकाल कर उसकी टाँगों से अलग कर दी और उसकी टपकती चूत को देखा.
वो अपनी चूत को हाथ से सहलाती हुई मुझे देखने लगी.

मैं अपनी जीभ से उसकी चूत को चाटने लगा.
वह आह करती हुई मचलने लगी.
करीब दस मिनट तक चूत चाटने के बाद मै उसके पेट को चाटता हुआ ऊपर को बढ़ चला.

जल्द ही मेरी जुबान उसके मम्मों पर आ गई.

मैंने साली की पीठ के नीचे हाथ ले जाकर ब्रा का हुक खोल दिया और दोनों मस्त गोरे दूध मेरी आँखों के सामने थे.

उसके एक दूध के नीचे का हिस्सा मैंने चाटा तो वो कराह उठी और मेरे सर को पकड़ कर ऊपर को खींचने लगी.
मैंने भी उसकी कामना को समझा और अपने होंठ उसके मम्मे के निप्पल पर लगा दिए.

आह क्या मस्त निप्पल थे यार … एकदम कड़क हो चुके थे.

मैंने उसकी दोनों चूचियों को करीबन दस मिनट तक चूसा और उसके दूध लाल कर दिए.

मै थोड़ा और ऊपर आकर उसकी गर्दन को चूमने लगा, फिर उसके होंठों को चूसने लगा और पूरे चेहरे को चाटने लगा.

उसकी आवाज निकली- क्या केवल चाटने चूमने के लिए ही मुझे सैट किया है?
मैं समझ गया कि इसको लंड लेने की जल्दी है.

मैंने उससे पूछा- क्या तुमको कुल्फी नहीं खानी है?
वो बोली- तुम खिलाओ तभी तो खाऊँगी!

मैंने उसकी चूचियों के ऊपर अपने आपको बिठाया और लंड उसके मुँह के पास लगा दिया.
वो मेरे लंड को चाटने और चूसने लगी.

कुछ ही देर में लंड एकदम रेडी हो गया था।
मैंने नीचे आकर चूत में लौड़े को सैट किया और उसे देखा.

उसने हामी भर दी और मैंने झटका लगा दिया.
मेरी साली की आह की आवाज निकली और लंड चूत में घुसता चला गया.

उसकी चूत काफ़ी टाइट थी.
ऐसा लग रहा था … जैसे उसका पति उसे चोदता ही ना हो.

मैंने थोड़ा और दम लगाया तो मेरा आधा लंड उसकी चूत में घुसता चला गया.

उसके मुँह से आहह निकली पर वो मेरी पकड़ में थी तो ज़्यादा कुछ कर नहीं पाई.

तब उसके बाद हल्के हल्के धक्कों से काम चालू हुआ और कुछ ही देर में फ़्रंटियर मेल की तरह मेरा लंड साली की चूत में धकापेल मचाने लगा.

वह भी आह आह करती हुई मजा लेने लगी.

करीब पंद्रह मिनट की मस्त चुदाई के बाद मैं साली की चूत में ही स्खलित हो गया और उसकी चूत में मैंने अपना बीज बो दिया.

उसके बाद मैंने अपनी साली को अपनी रांड बना ली और उसके साथ जी भरके मौज की, अनेकों बार रंडी साली चोदा.

अगली बार की Xxx जीजा साली सेक्स कहानी में आपकी मस्ती का ख्याल रखते हुए मैं अपनी बीवी और साली के साथ एक साथ चुदाई कैसे हुई वो लिखूँगा.
आप मुझे मेल करना न भूलें कि यह कहानी आपको कैसी लगी?
[email protected]

Check Also

मेरी बीवी अपने भाई से चुदने लगी थी

मेरी बेवफा बीवी ने मेरे ही घर में अपने ही भाई से सेक्स का मजा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *