लालची दोस्त ने नई नई चूत दिलवाई- 1

नेकेड सेक्सी गर्ल फक स्टोरी में पढ़ें कि एक लड़की गिफ्ट्स के बदले मुझसे चुदती रहती थी. एक दिन उसने मुझे अपने घर बुलाया. वो दो दिन के लिए अकेली थी.

मेरा नाम रवीश कुमार है, मैं रांची झारखंड से हूं. मेरी उम्र 27 साल है.

मैं देखने में सामान्य हूं, लम्बाई 5 फुट 6 इंच है और मेरी बॉडी भी सही है. मेरा लंड 6 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा है, मैं चूत गांड चोदने में माहिर खिलाड़ी हूं.
मैंने आज तक कितनी चूत चोदी हैं, मुझे याद भी नहीं है. मैंने रंडियों पर बहुत पैसे उड़ाए हैं. मुझे रंडियों को नचवाना, उनसे लेस्बियन सेक्स करवाना, मसाज करवाना बहुत पसंद है.

आप सबने मेरी पिछली सेक्स कहानी
दोस्त की चालू बहन की चुदाई
को बहुत पसंद किया, उसके लिए धन्यवाद.

पिछली सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कि कैसे मैंने लालची प्राची को चोद दिया था.
उसने अपने बर्थ-डे पार्टी की लालच में अपनी मिनी भाभी को मुझसे चुदवा दिया था.

मिनी को चोदते चोदते मुझे उससे थोड़ा लगाव हो गया था.
मैंने प्राची को चोदना कम कर दिया था लेकिन वो मिनी को मेरे पास पहुंचा देती थी, बदले में मैं उससे कुछ गिफ्ट्स दे देता था.

मिनी से मेरा मिलना और चुदाई बंद हो गया तो मैंने प्राची से भी थोड़ी दूरी बना लिया और उसे गिफ्ट्स देना बंद कर दिया.

अब प्राची को जब कुछ जरूरत होती, तो वो मुझे बोलती, मैं उसे अपने रूम पर बुला कर लंड चुसवाता, उसके मुँह को चोदता, फिर उसे एक रंडी के जैसे पैसे दे कर वापस भेज देता.

धीरे धीरे मैं प्राची से बॉडी मसाज करवाने लगा, बॉडी मसाज करवाने के बाद लंड भी चुसवा लेता.

मैंने प्राची की चूत को देखना बंद कर दिया था.
प्राची को मैं एक पेशेवर रंडी मान चुका था और प्राची भी ये बात समझ गई थी.

एक दिन प्राची घर पर अकेली थी, तो उसने मुझे फोन किया और मुझे घर आने को बोली.
दो दिन उसके घर पर कोई नहीं रहने वाला था, तो वो मुझसे साथ में बीयर लेकर आने को बोली.

मेरे पास भी काफी दिनों से किसी चूत का इंतजाम नहीं था तो मैंने सोचा कि इसी रंडी को चोदकर इसका मजा ले लूंगा और ये राजी हुई तो इसकी गांड भी मार लूंगा.
प्राची ने अब तक मुझसे गांड नहीं मरवाई थी.

थोड़ी देर बाद मैं प्राची के घर पहुंच गया.
प्राची ने दरवाजा खोला, मैं अन्दर आ गया.

उसने एक काले रंग की झीनी सी सेक्सी नाइटी पहनी हुई थी जिसके अन्दर काले रंग की ब्रा और पैन्टी दिख रही थी.

प्राची ने मुझे किस किया और दो दिन उसके साथ उसके घर पर रहने को बोला.
मैंने भी उसकी गांड को मसल कर साथ में रुकने का बोल दिया.

प्राची किचन में चली गई.
मैं उसके पीछे गया, तो देखा कि वो मटन बनाने में लगी हुई थी.
उसे पता था कि मुझे नॉनवेज खाना बहुत पसंद है.

प्राची ने भी एक बॉटल व्हिस्की और 4 बॉटल बीयर लाकर रखी थीं.

मैंने प्राची से पूछा, तो उसने कहा कि उसे दो दिन खूब पीना है, चुदाई करवानी है और मुझसे बहुत सी बातें करनी हैं.
मैं समझ गया कि प्राची मुझे लूटने के मूड में है.

खाना बनाने में मैं प्राची की मदद करने लगा, मैंने बीयर की बोतलों को फ्रिज में रख दिया.
बीच बीच में मैं उसके चूचों को दबा देता, प्राची भी मेरे लंड को मसल देती.

प्राची आज थोड़े रोमांटिक मूड में थी तो मैंने भी आज प्यार से सब करने का मूड बना लिया.

मैंने एक बीयर की बॉटल को खोला और खुद पीने लगा.
बीच बीच में मैं प्राची को भी पिलाने लगा.

किस करते हुए हम दोनों बीयर पी रहे थे.

मेरा लंड खड़ा हो गया था, मैंने प्राची की पैंटी खोल दी और चूत में उंगली करने लगा.

मैंने प्राची की टांगों को फैला कर उसे किचन की स्लैब पर झुका दिया.
उसकी चूत पीछे से खुल कर दिखने लगी.

मैं भी अपनी जींस और चड्डी खोल कर उसकी चूत पर लंड को रगड़ने लगा.

प्राची की चूत गीली होने लगी थी, मेरे लंड पर चिपचिपा पानी महसूस हो रहा था.
वह आगे पीछे होकर लंड को चूत में लेने की कोशिश कर रही थी.

मैंने भी छेद पर लंड लगा कर धक्का दे दिया.
एक बार में पूरा लंड चूत में उतर गया.

मैं पीछे से उसके चूचों को मसलते हुए चोदने लगा.
प्राची अपना चेहरा घुमा कर किस करने लगी.

पांच मिनट की चुदाई में प्राची की चूत ने अपना रस टपका दिया जो जमीन पर फैलने लगा.

मैं अभी झड़ने के मूड में नहीं था तो मैं थोड़ा रुक कर उसे धीरे धीरे चोदने लगा.

पन्द्रह मिनट चोदने के बाद मैंने प्राची को सामने से गले से लगा लिया और किस करने लगा.

हम दोनों एक दूसरे को होंठों को अच्छे से चूस रहे थे.
बीच बीच में मैं प्राची के मुँह में अपना जीभ डाल देता तो वो पूरे मजे से जीभ को चूसती, दांत से हल्के काटती, जीभ से जीभ रगड़ने लगती.
प्राची अपने दोनों हाथों से मेरे चेहरे को पकड़ कर किस कर रही थी.

मैं एक हाथ से उसके चूचे दबाने लगा और एक हाथ से चूत को सहलाने लगा.

मेरा लंड खड़ा हो गया था, प्राची ने मुझे वहीं जमीन पर लेटा दिया और मेरे लंड पर बैठ कर कूदने लगी.

प्राची भी चुदाई में माहिर खिलाड़ी थी वो बहुत तेजी से लंड पर कूद रही थी.
पांच से सात मिनट की चुदाई में मैं झड़ गया.

मेरे झड़ने के बाद भी प्राची मुझे चोदती रही, मुझे लंड में दर्द होने लगा.

मैंने मना किया तो उसने मेरे होंठों पर किस करना शुरू कर दिया और हल्के हल्के से मेरे होंठों को काटने लगी.

वो धीरे धीरे मेरे लंड पर कूदती रही.
मुझे मजा आ रहा था.

प्राची ने मुझे पांच मिनट तक मजे लेकर चोदा, उसके बाद वो मेरे बगल में जमीन पर लेट गई.

मेरे लंड में जलन होने लगी थी, मैंने एक ग्लास पानी पिया और पेशाब करने चला गया.

बाथरूम से आया तो मेरा लंड सिकुड़ कर किसमिस बन गया था.
प्राची नंगी ही खाना बनाने में लग गई थी.

मैंने उसे पीछे से गले लगा लिया और पीठ और गर्दन पर किस करने लगा.

खाना लगभग बन गया था तो प्राची ने मुझे अपने रूम में भेज दिया और आराम करने को बोली.

मैं उसके कमरे में नंगा ही लेट कर टीवी देखने लगा.
थोड़ी देर में प्राची अपनी नंगी चूचियां हिलाती हुई कमरे में आई.

वो प्लेट में चखना सजा कर ले आई थी. वो दो ग्लास और बीयर की बॉटल भी ले आई थी.

मैंने ग्लास में बीयर निकाल कर प्राची की ओर बढ़ा दिया और चीयर्स करके हम दोनों पीने लगे.

मैंने प्राची से पूछा- मुझसे क्या बात करनी थी?
प्राची- मुझे कुछ लोगों से छुटकारा चहिए, जिसमें तुम मेरी मदद कर दो. बहुत परेशान कर दिया सबने!

मैंने खुल कर बताने को कहा.

प्राची- डेटिंग, पार्टीज और शॉपिंग के चक्कर में मैं कुछ लड़कों से मिली, घूमी और चुद गई. अब सब मुझे रोज चोदने के लिए बुलाते हैं. मैं रोज कितने के साथ चुद सकती हूँ? मुझे अब सबसे छुटकारा चहिए. तुम मेरी मदद कर दो प्लीज!

मैंने उसकी मदद करने के लिए हां कर दिया और उसे समझाया- इस सबसे दूर रहो, तुम कभी बुरी तरह से फंस सकती हो.
प्राची ने सर झुका कर हामी भरी.

प्राची- मुझे कुछ पैसों की जरूरत है. मैंने अपने दोस्तों से उधार लिया है.
मैंने थोड़े गुस्से से प्राची को आंख दिखाई.

प्राची- मैं धीरे धीरे पैसे वापस कर दूंगी … और तुम्हें खुशी दीदी की चूत भी दिलवा दूंगी.
मैं- वो कैसे? खुशी की चूत कैसे दिलवा दोगी?

प्राची- तुम मेरी मदद कर दो, मैं खुशी को तुम्हारे लंड के नीचे पहुंचा दूंगी, ये मेरा वादा है.

मैंने उसे पैसे देने के लिए हां बोल दिया तो प्राची ने खुश होकर मेरे होंठों पर किस कर दिया.

हम दोनों इधर उधर की बात करते हुए बीयर पी रहे थे.
खुशी की चूत चुदाई का सोच कर मेरा लंड खड़ा हो गया था.
नयी चूत चोदने का रोमांच अलग होता है.

हम दोनों ने दो दो बीयर पी ली थीं.

फिर प्राची बाथरूम गई तो मैं भी उसके पीछे चला गया.
हमने एक दूसरे के सामने खड़े होकर पेशाब की और साफ़ होकर बेड पर आ गए.

हम दोनों को ही हल्का हल्का सा नशा हो चुका था.
मैंने प्राची को घोड़ी बनाया और उसकी चूत में लंड पेल दिया.

मैं खुशी को सोच कर प्राची को चोदने लगा.
पांच मिनट की चुदाई के बाद मैंने पोजिशन बदल दी.

प्राची की गांड के नीचे तकिया लगा दिया और ऊपर चढ़ कर उसे किस करते हुए चोदने लगा.
दस मिनट चोदने के बाद मैं झड़ गया और प्राची के ऊपर ही लेटा रहा. मैं उसके गाल और गर्दन पर किस करता रहा.

प्राची- मुझे गिफ्ट चाहिए!
मैं- ठीक है, ले लेना.

प्राची- मुझे नया मोबाइल फोन चाहिए.
मैं- कौन सा … कितने वाला?
प्राची- आई फोन!
मेरा नशा उतर गया.

मैं- ये तो बहुत महंगा मोबाइल है, मेरे पास इतने पैसे नहीं हैं.
प्राची- किश्त में ले दो प्लीज. कुछ पैसे मैं भी मिला दूंगी.
मैं टालने लगा.

प्राची- नेहा दीदी की भी चूत दिला दूंगी, प्लीज ले दो ना, इसके बाद कुछ गिफ्ट नहीं चाहिए. जब तुम्हारा मन हो, बुला कर मुझे चोद लेना.

मैं- नेहा की सांवली शक्ल और काली चूत में मेरी कोई दिलचस्पी नहीं है.
प्राची का मुँह उतर गया, उसका काम नहीं बन रहा था.

वो थोड़ी देर चुपचाप लेटी रही.
फिर अचानक से उसने कहा- मैं पूनम आंटी की चूत भी दिला दूंगी.

दोस्तो, आगे बढ़ने से पहले मैं आपको पूनम सिंह के बारे में बता देता हूं.
पूनम प्राची के घर के सामने रहती है. 38 साल की है वो … लेकिन दिखने में 30 साल की माल दिखती है.
गोरा बदन, बड़े बड़े तने हुए चूचे, फिगर 36-30-38 का है.
वो तीन बच्चों की मां है, पति की सरकारी नौकरी है, वो उम्र में पूनम से 12 साल बड़ा होगा.

पूनम बिहार से है, उसे हंसी मजाक करना पसंद है. कभी कभी वो डबल मीनिंग बातें भी करती है.
उसकी इच्छा थी कि वो ब्वॉयफ्रेंड बनाए और उसके साथ जींस टॉप पहन कर बाइक पर घूमे.

मैं- पूनम की चूत कैसे दिलाओगी?
प्राची- पहले तुम वादा करो कि मोबाइल लेकर दोगे. मैं पूनम आंटी से सैटिंग करवा दूंगी.
मैं फिर से टालने लगा क्योंकि मुझे इतने पैसे खर्च करने का मन नहीं था.

प्राची- सील पैक उर्वशी को भी चोद लेना, लेकिन मुझे मोबाइल ले दो.

उर्वशी का नाम सुनते ही मेरा पूरा नशा फट गया और मैं उठ कर बैठ गया.

दोस्तो, उर्वशी के बारे में भी बता देता हूं, उर्वशी और प्राची बेस्ट फ्रेंड हैं, दोनों बचपन की सहेली हैं. उर्वशी 19 साल की एकदम जहर माल है. वो दूध जैसी गोरी, कड़क बदन, फिगर 32-26-34 का है.
उर्वशी का कभी ब्वॉयफ्रेंड नहीं रहा था इसलिए उसकी सील टूटी नहीं थी.

काले रंग की जींस और काले टॉप में उर्वशी को देख लेने के बाद लंड हिलाए बिना किसी को सुकून नहीं मिलेगा.

मैं- उर्वशी की सील टूटी और आई फोन तुम्हारे हाथ में, साथ में मुझे पूनम भी चाहिए.

प्राची- ठीक है, बहुत जल्दी उर्वशी का खून तेरे लंड पर लगेगा.

मैं बोला- ठीक है, लेकिन चुदेगी कोई … और फायदा तुमको होगा. ये कुछ सही नहीं लग रहा है!
प्राची- अभी तो मुझे चोद चुके हो ना!

मैं- सील तो तेरी भी टूटनी चाहिए.

नेकेड सेक्सी गर्ल समझ गई कि मैं उसकी गांड मारने के मूड में हूं.
लेकिन प्राची थोड़े नशे में थी, उसे मोबाइल मिलने की खुशी भी थी.

प्राची- तुम्हें मालूम है कि मैंने गांड में लंड लेने की कोशिश की है, लेकिन दर्द के कारण कभी पूरा नहीं ले पाई हूँ. तुम अपनी इच्छा पूरी कर लो, लेकिन थोड़ा आराम से करना.

उसने अपने बैग से वैसलीन की डिब्बी निकाल कर मुझे दे दी.
मैंने वैसलीन को उसकी गांड के छेद पर लगाया और एक उंगली से प्राची की गांड को ढीला करने लगा.

आज एक रंडी की गांड फाड़ने का सुख मिलने वाला था, मुझे बड़ा सुकून मिल रहा था.

दोस्तो, किस तरह से प्राची की गांड चुदाई हुई. उस सेक्स कहानी को मैं अगले भाग में लिखूँगा.
आप मुझे मेल करें कि आपको यह नेकेड सेक्सी गर्ल फक स्टोरी मजेदार तो लग रही है?
[email protected]

नेकेड सेक्सी गर्ल फक स्टोरी का अगला भाग: लालची दोस्त ने नई नई चूत दिलवाई- 2

Check Also

पुताई वाले मजदूर से चुद गई मैं

मैं एक Xxx लड़की हूँ, गंदा सेक्स पसंद करती हूँ. एक दिन मेरे घर में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *