मकान मालकिन की बच्चे की चाहत पूरी की

नमस्कार दोस्तो, कैसे हो आप सब? यह अन्तर्वासना पर मेरी पहली कहानी है।
मेरा नाम जगदीश है, मैं मुम्बई शहर में रहता हूँ। यह बात लगभग 2 साल पुरानी है जब मैं रहने के लिए कोई जगह ढूँढ रहा था।

मेरे एक दोस्त, जो मेरे ही साथ पढ़ता है, उसने मुझे एक जगह का पता दिया। उसके बताये पते पर पहुंचा और डोर बैल बजाई तो एकदम से दंग रह गया।
सामने 32 वर्षीय महिला खड़ी थी।
क्या दिखती थी वो… ऐसा लगता था जैसे अभी इसको चोद डालूँ!
मैंने अपने आप को संभाला और बात करने लगा.

उन्होंने मुझे अंदर बुलाया और मुझे आने के कारण पूछा तो मैंने उनसे कहा- मेरे दोस्त ने बताया कि आप कमरा भाड़े पे देना चाहती हैं।
वो मुझे कमरा दिखाने ले गई, मैं उनके पीछे पीछे चल रहा था, क्या चूतड़ थे… ऐसा लग रहा था जैसे उनके पति को उनकी गांड मारना ही पसंद हो। उनकी फिगर 30-32-36 थी, जैसे उनके पति उनके मम्मों को न चूसते हों।

कयामत सी फिगर देखकर मैंने ठान लिया कि अब इसी जगह रहना है, चाहे कितना भी भाड़ा वो वसूले!
कमरा देखकर मैंने उनसे भाड़ा तय किया और बोला- कल से मैं रहने को आ जाऊंगा।
उन्होंने हाँ कर दी और मैंने उन को एडवांस दे दिया।

दूसरे ही दिन में वहां रहने चला गया। अब बस मैं इसी फिराक में था कि कैसे इसे पटाऊँ और चोदूँ।

मैं उनके बारे में अधिक जानकारी जुटाने लग गया। पान वाले से पता चला कि उनका पति बजाज कंपनी में अच्छी पोस्ट पर है, ज्यादातर वो कम्पनी के काम में व्यस्त होते हैं। उनको अभी तक कोई बच्चा नहीं हुआ है।

कुछ दिन बीते ही थे कि मैं उनसे बहुत घुल मिल गया। वो अकेली होती तो मैं अकेलेपन का फायदा उठता और उनको उकसाने की कोशिश करता।

एक दिन मैंने उनकी गर्दन पे कुछ निशान देखे और उत्सुकतावश उनको पूछा तो उन्होंने कुछ बताया नहीं। मैं भी इतना नासमझ नहीं था कि सेक्स करते वक्त निशानों को पहचान न सकूँ।

कुछ दिनों बाद वो जरा मायूस सी दिखी, मैंने कारण पूछा तो रोने लगी, कहने लगी- सब लोग मुझे बांझ समझते हैं। कोई मुझे अपने घर नहीं बुलाता कि मेरी नजर उनके बच्चों को ना लग जाये।

मैंने उन्हें समझाया- आप डॉक्टर से सलाह मशवरा कर लो।
तब उन्होंने बताया कि उनके पति के शुक्राणु कमजोर हैं और वो कभी बाप नहीं बन सकते! पर यह बात उनको पता नहीं है। मैं उनसे बहुत प्यार करती हूँ और उनको धोखा देना नहीं चाहती।

मैंने पहल की- मैं आपकी मदद कर सकता हूँ अगर आप चाहें तो?
उन्होंने मुझसे पूछा- कैसे?
मैं बोला- मैं आपको माँ बना सकता हूँ।
वो थोड़ा गुस्सा हो गई, बाद में समझाने पर मानी कि मैं उनको माँ बनाऊँगा और वो अपने पति से कहेंगी कि यह उनका ही बच्चा है।

मैंने वक्त जाया न करते हुए उनको सहलाना शुरू किया, ऊपर से ही मैं उनके मम्मों को सहलाने लगा। मैंने अपनी जीभ उनके मुंह में भींच दी।
पहले तो वो शर्मा रही थी… पर वो कहते हैं ना कि जब चूत में आग लगी हो और सामने लंड हो तो सब शर्म भाग जाती है।

वो मुझ पर टूट पड़ी मानो जैसे भिखारी को लाटरी लगी हो।
हम एक दूसरे को चूमे जा रहे थे। मेरे सब्र का बांध टूट रहा था, मैंने धीरे धीरे उनको नंगी करना शुरु किया। देखते ही देखते वो मेरे सामने नंगी हो गई.
चूत पर बालों का घना जंगल दिख रहा था, ऐसा लग रहा था जैसे कभी बाल साफ किये ही न हों।

मैं उनके मम्मों को सहला रहा था, वो मूरत बन कर मुझे देख रही थी। मैंने उनको अपने पास भींच लिया और उनके होंठों को चूसने लगा।

मेरे हाथ अभी भी उनके मम्मों को सहलाने में लगे थे।

अब वो गर्म हो चुकी थी, वो अब कह रही थी- चोद दे मुझे!
अब मैंने उनकी चूत पर लंड रखा क्योंकि मैं उनकी चूत नहीं चाट सकता था, मुझे बालों की वजह से घिन आ रही थी।
मैंने ज्यादा देर न करते हुए लंड को चूत पे लगा दिया और एक जोर के झटके से लण्ड पूरा चूत में घुस गया। चूत थोड़ी टाइट थी तो उनकी उम्म्ह… अहह… हय… याह… निकल गई.

मैं उनको माँ बनाना चाहता था तो मैंने उनको सीधा ही लेटा रहने दिया और चोदता रहा।
करीब 5 मिनट बाद वो झड़ गई.
यह हिंदी सेक्स स्टोरी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!

अब मेरा भी माल निकलने वाला था तो मैं उनकी चूत में ही झड़ गया।
चुदाई के दौरान मैंने उनसे बात नहीं की क्योंकि वह रो रही थी। शायद उसे अपने पति को धोखा देने का गम हो।

उसके बाद हमने कई दिन तक कोई बात नहीं की।

काफी दिन बाद दिन वो आई, खुश दिख रही थी वो… मुझे बोली- मैं माँ बनने वाली हूँ।
सुनकर बहुत अच्छा लगा कि मैंने उनकी बच्चे की चाहत पूरी करने में मदद की.

उसने बाद उन्होंने कभी मुझसे चुदवाया नहीं… शायद वो सच्ची पतिव्रता औरत थी।
उसके बाद मैं वहाँ से दूसरी जगह शिफ्ट हो गया।

कैसी लगी दोस्तो आपको मेरी यह कहानी?
आप सभी के उत्तरों का इंतज़ार है।
[email protected]

Check Also

एयर हॉस्टेस को अपनी होस्ट बनाया

नमस्ते दोस्तो.. वैसे तो मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ, पर आज मैं भी आप …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *