पापा ने चोद कर माल बना दिया

Xxx बाप बेटी सेक्स कहानी में पढ़ें कि शराब के नशे में पिता ने अपनी बेटी को अपनी बीवी समझ कर बिस्तर पर पकड़ लिया. बेटी ने भी उनका विरोध नहीं किया और मजा लिया.

दोस्तो,
मेरा नाम सोनी कुमारी है और मैं बिहार के पटना जिले में रहती हूं.
मेरी उम्र 19 वर्ष है और मैं अभी बी ए की पढ़ाई कर रही हूं।

हमारे घर में कुल 4 लोग रहते हैं, मेरे मम्मी पापा मैं और मेरा छोटा भाई जिसकी उम्र अभी कम है।

मैं अपने बारे में बता दूं.
मेरी हाइट 4 फीट 11 इंच और मेरा पूरा बदन गठीला है पूरा भरा हुआ शरीर है.
मेरे बूब्स 34″ के हैं और मेरी कमर 32 की होगी।

मेरा शरीर इतना आकर्षक है कि मेरे मोहल्ले के सारे लड़के मेरे ऊपर फिदा रहते हैं।

मेरा भाई अभी छोटा है इसीलिए मैं घर में शॉर्ट्स या नाइटी कुछ भी पहन लिया करती हूं।
पर मेरे पिताजी मेरे साथ ऐसे करेंगे मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था।

आज की यह Xxx बाप बेटी सेक्स कहानी मैं आप लोगों को बताने जा रही हूं जो कि एक सच्ची घटना है।

एक दिन मेरी मम्मी को मौसी के घर अचानक जाना पड़ा मम्मी ने दोपहर में मुझसे कहा- सोनी, मैं छोटू को लेकर सुनीता के पास जा रही हूँ.
सुनीता मेरी मौसी हैं।

मम्मी ने देखा कि पापा का फोन व्यस्त आ रहा था तो उन्होंने कहा- हो सकता है अभी किसी काम में बिजी होंगे तुम्हारे पापा. तुम बता देना उनको!
और छोटू को लेकर चली गई।

मेरे पापा जो कि लेडीस के सिंगार का सामान और कपड़े बेचते हैं.
शाम को दुकान से घर आए पापा!

मैं उनको बताने ही जा रही थी, तब तक शर्मा अंकल का फोन आ गया और उन्होंने पापा को बाहर बुला लिया और वे लोग टहलने के लिए चले गए।

मैंने सोचा कोई बात नहीं, खाना बना लेती हूं, पापा जब टहल के आएंगे तो उनके सारी बात बता दूंगी।

लगभग 10:00 बज चुके थे, पापा अभी भी घर नहीं आए थे मुझे डर लग रहा था इसीलिए मैं खाना जाकर मम्मी के रूम में सो गई।

मुझे पता ही नहीं चला कब मेरी आंख लग गई.

जब मेरे पापा आए तो उन्होंने सोचा कि उनकी बीवी सो रही है इसीलिए उन्होंने मुझे पीछे से पकड़ लिया और बोले- सविता तुम इतनी जल्दी सोच कैसे सकती हो, अभी तो हम लोगों का रोज वाला खेल भी नहीं हुआ है।

यह कहते हुए पापा ने मुझे पीछे से पकड़ लिया और मेरे बदन को सहलाने लगे, मेरे बूब्स को दबाने लगे और मेरे होठों पर किस करने लगे.
तभी मुझे पता चला कि पापा ने शराब पी हुई थी.

अब मैं डरने लगी क्योंकि पापा नशे में थे कुछ भी हो सकता था मैंने उनसे छुटना चाहा।

पर मेरे पापा इतने हट्टे कट्टे हैं कि उन्होंने मुझे पूरी तरह से अपनी बाहों में जकड़ लिया था.
और फिर उन्होंने मेरी नाइटी ऊपर सरका कर मेरी पैंटी को निकाल दिया और मेरी योनि को सहलाने लगे.

मैं हमेशा योनि के बाल साफ रखती हूं इसीलिए मेरी योनि मुलायम रहती है.

पापा बोले- क्या बात है सविता, आज तो तेरी चूत बिल्कुल पहली रात की तरह चिकनी और मुलायम दिखाई दे रही है।

फिर उन्होंने मेरी ब्रा को निकाल दिया और मुझे पूरी तरह नंगी कर दिया।

इसके बाद वे बिल्कुल भूखे और कामुक शिकारी की तरह मेरे पूरे बदन को चाटने लगे और बोले- आज तो तेरे बदन से गजब की खुशबू आ रही है.
मैं उनका विरोध करना चाहती थी और उन्होंने मुझे पूरी तरह से अपनी बाहों में जकड़ लिया था.

धीरे-धीरे मैं भी गर्म होने लगी थी।

तभी पापा ने अपना औजार मेरी योनि पर सेट किया और धक्का मारने लगे.
मैं अभी वर्जिन थी इसीलिए उनका औजार फिसल जा रहा था.

पापा ने थूक लगाया और फिर एक जोरदार झटके में आधा औजार अंदर कर दिया.

मैं दर्द से छटपटाने लगी.
पापा बोले क्या बात है शादी को 20 साल हो गए, दो बच्चे भी हो गए. फिर भी बिल्कुल कुंवारी लड़कियों की तरह तेरी योनि टाइट है, कौन सी दवा खाने लगी है तू?

पापा नशे में बड़बड़ा रहे थे और धक्का लगा रहे थे.

अब धीरे-धीरे मुझे भी मज़ा आने लगा.
और पापा ने भी धक्का की स्पीड बढ़ा दी.

फिर उन्होंने मुझे घोड़ी बनाया और मेरे पीछे अपना औजार सेट करके पूरा जोरदार झटका मारा मेरी तो जान ही निकल गई.
मैं खूब तेज चिल्ला पड़ी।

पापा बोले- क्या बात है, आज तो सुहागरात वाली दिन याद आ गई. तूने भी आज पूरा मूड बनाया है.
उनको अभी तक पता नहीं था कि मैं उनकी बीवी नहीं बल्कि उनकी बेटी हूं।

पापा नशे में थे पर उनका औजार बिल्कुल होश में था और वह चीरता हुआ मेरे पिछवाड़े में पूरा जा रहा था.
और मुझे भी धीरे-धीरे मजा आने लगा और पच पच की आवाज और मेरी कामुक सिसकारियों से पूरा कमरा भर चुका था।

फिर पापा बेड पर से उतरे और उन्होंने मुझे अपनी बाहों में उठा लिया और बिल्कुल अंग्रेजी फिल्मों की तरह मुझे अपनी बाहों में रखकर अपना लंड मेरी योनि में सेट कर दिया और मुझे ऊपर नीचे करने लगे.
अब उनका पूरा औजार मेरी योनि में जा रहा था.

मेरी योनि बिल्कुल थक चुकी थी और मैं झड़ चुकी थी.
करीब 15 मिनट की लगातार ऊपर नीचे करने के बाद मेरे पापा मेरी योनि में ही झड़ गए और फिर उन्होंने मुझे लिटा दिया और मेरी बूब्स को दबाने लगे और चाटने लगे।

करीब 15 मिनट बाद फिर पापा का मूड बना और उन्होंने अपना औजार मेरे पिछवाड़े में सेट करके धक्का लगाने लगे.

अब मेरा भी मूड बन चुका था, मेरा दर्द कम हो गया था और अब मुझे मजा आने लगा था.
मैं भी पापा का भरपूर साथ दे रही थी और अपने पिछवाड़े को उठा उठा कर करवा रही थी।

फिर मैंने उनका औजार अपनी योनि में सेट कर दिया और खुद ऊपर नीचे होने लगी.
तभी पापा ने कहा- क्या बात है मेरी सविता रानी, तुम तो 15 मिनट के बाद मेरा विरोध करने लगती थी. पर आज तो पूरा साथ दे रही हो?

और फिर मेरे पापा ने धक्कों की रफ्तार बढ़ा दी।

मेरी योनि में पापा दूसरी बार झड़ चुके थे.
और फिर वे थक कर सो गए.

मैं भी उठी और बाथरूम में गई और नहाई.
फिर खाना खाने के लिए पापा को जगाने गई.

मैं चल नहीं पा रही थी, मुझे चलने में बहुत दिक्कत हो रहा था।

थकने के कारण पापा सो गए और उन्होंने खाना खाने से मना कर दिया।

सुबह हुई रात में जो हुआ उसके कारण मैं पूरी तरह से थक चुकी थी और मैं देर तक सोती ही रह गई.

मेरे पापा जब मॉर्निंग वॉक से लौट कर आए तो वे मेरी मम्मी को खोजने लगे.
और फिर वे मेरे रूम में आ गए और बोले- सोनी बेटा, तेरी मम्मी कहां है? सुबह-सुबह दिखाई नहीं दे रही!

तो मैंने पापा से कहा- पापा, मम्मी तो कल दोपहर में ही मौसी के घर चली गई थी.
पापा पूरी तरह चौंक गए और बोले- क्या बात कर रही हो? फिर रात को मेरे साथ!

मैं उठी और फ्रेश होने के लिए बाथरूम में जाने लगी तो मैं चल नहीं पा रही थी, बहुत दर्द हो रहा था.
जिसके कारण पापा सब समझ गए।

पापा मेडिकल पर गए और गर्भनिरोधक गोलियां और पेन किलर लाकर मुझे दी और बोले- देखो सोनी बेटा, मुझे कुछ मालूम नहीं था. और गलती तुम्हारी भी है. तुम्हें हमारे कमरे में नहीं जाना चाहिए था।

मैंने दवा खाई और किचन में पापा के लिए चाय बनाने के लिए चली गई।

अभी मम्मी का फोन आया, मम्मी ने कहा कि मौसी की तबीयत काफी बिगड़ चुकी है इसीलिए उनको एक सप्ताह वहीं रुकना पड़ेगा।

मेरे पापा किचन में आये और बोले- सोनी बेटा, मैंने रात को जो भी किया … उसके लिए मुझे माफ कर दो!
मैं कुछ नहीं बोली.

तभी पापा ने मुझे अपनी गोद में उठा लिया और अपने रूम में ले जाकर बेड पर बैठा दिया और बोले- देखो, मैंने रात को जो भी किया था, मैं उसको सुधारना चाहता हूं.
मैंने सोचा कि पापा माफी माफी मांगेंगे.

पर उन्होंने अपना बेडरूम लॉक कर दिया और अपने सारे कपड़े निकाल दिए।

फिर वे अपना पहलवान जैसा शरीर लेकर मेरे ऊपर टूट पड़े.
मुझे मालूम था कि अब कुछ नहीं होने वाला।

पर मैंने पापा से कहा- पापा छोड़ो, मम्मी आती ही होगी.
पापा ने हंसते हुए जवाब दिया- देखो, अब प्रकृति ही चाहती है कि तुम संभोग का पूरा मजा लो!
मैं बोली- पापा, मैं कुछ समझी नहीं।

पापा मुझे किस करने लगे और बोले- अरे पगली, तेरी मम्मी का कॉल आया था. बोल रही थी कि 1 सप्ताह वहीं रुकेगी.

मैंने मन ही मन सोचा कि अब 1 सप्ताह तो मेरा बाजा बजने वाला है पूरा!

तभी पापा ने मेरे सारे कपड़े निकाल दिए और मेरे 34″ के बूब्ज़ मसलने लगे और बोले- सोनी, तुम बिल्कुल अपनी मां की तरह लग रही हो. उसको भी सुहागरात के दिन जब मैंने उसको पहली बार देखा था तो बिल्कुल वह भी तुम्हारे जैसे ही खूबसूरत बदन की मालिका थी।

यह कहते ही पापा मेरी योनि को चाटने लगे.
रात में संभोग के कारण मेरी योनि में हल्का-हल्का सूजन आ चुकी थी जिसके कारण वह पहले से ज्यादा आकर्षक लग रही थी.

पापा ने अपने औजार मेरी योनि के छेद पर रखा और जोरदार धक्का मारा.
सरसराता हुआ उनका पूरा औजार मेरी योनि में घुस गया और मेरे शरीर के अंदर एक करंट जैसा लहर दौड़ पड़ी और मैं चिल्ला पड़ी।

तभी पापा ने धक्के लगाना शुरू किया और धीरे-धीरे मुझे भी पूरा मजा आने लगा और कामुक सिसकारियां लेकर उनका साथ दे रही थीं।

करीब आधे घंटे की लगातार संभोग के बाद पापा ने अपनी जेब से एक दवा निकाली और खाकर फिर मुझे घोड़ी बना दिया और मेरे पिछवाड़े पर अपना औजार सेट करके 15 मिनट तक लगातार आगे पीछे करते रहे।

मुझे पूरा मजा आ रहा था.
पापा ने मुझे बिल्कुल सुहागरात वाला मजा दिया था.

फिर पापा ने मुझे उठाया और बाथरूम में लेकर गए और झरने के नीचे मुझे खड़ा करके मेरे बूब्स को दबाने और चाटने लगे.
बाथरूम में भी मेरे पापा ने मुझे एक बार फिर से चोद डाला.

और फिर नहाकर मैंने खाना बनाया और हम लोगों ने खाना खाया.
फिर पापा दुकान पर चले गए और बोले- शाम को तैयार रहना, मैं जल्दी ही आऊंगा।

दोस्तो, 7 दिनों तक मेरे पापा ने मुझे दिन और रात दोनों एक जैसा Xxx बाप बेटी सेक्स करके भरपूर मजा दिया.

अब जब भी मम्मी नहीं रहती हैं, पापा मेरे साथ संभोग कर लिया करते हैं.
मेरे स्तन भी बड़े बड़े हो गए हैं, उनका साइज़ मम्मी के बूब्स की तरह हो चुका है और मेरी गांड पीछे की तरह निकल चुकी है।

आपको मेरी Xxx बाप बेटी सेक्स कहानी कैसी लगी? मुझे मेल और कमेंट्स में बताएं.
[email protected]

Check Also

मेरी बीवी अपने भाई से चुदने लगी थी

मेरी बेवफा बीवी ने मेरे ही घर में अपने ही भाई से सेक्स का मजा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *