पति के बॉस ने मुझे अपनी रखैल बना लिया

हस्बैंड बॉस सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक बार मेरे पति के साथ उनके बॉस हमारे घर आये. तो बॉस की नजर मेरे शरीर पर टिक गयी. उन्होंने मेरी इतनी तारीफ़ की कि मैं पगला गयी.

यह कहानी सुनें.

Husband’s Boss Sex Kahani

दोस्तो, मैं ज्योति हूँ. मैं 27 साल की शादीशुदा औरत हूँ. मेरी फिगर का साइज 36-30-38 का है.
मैं बहुत ही ज्यादा सेक्सी लगती हूँ. मुझे जो कोई भी देखता है, उसकी लार टपक जाती है.

हमारा घर गांव में है. मैं अपने पति के साथ सिटी में रहती हूँ, जहां मेरे पति काम करते हैं.
मैं शादी के 6 महीने बाद उनके साथ शहर में रहने आ गई थी.

मेरे पति एक प्राइवेट कंस्ट्रेक्शन कंपनी काम करते हैं. वो अपने बॉस के काफी करीबी हैं और उनकी अच्छी खासी सैलरी भी है.

यह हस्बैंड बॉस सेक्स कहानी एक साल पहले की है.
एक दिन मेरे पति उनके बॉस के साथ घर आए.
उनके बॉस मुझे देखते ही रह गए.

मैं उनके लिए चाय ले आई.
वे चाय पीकर बोले- भाभी, आपने चाय बहुत अच्छी बनाई है … बिल्कुल अपनी तरह.
मैं बोली- मतलब?

वो बोले- मेरा मतलब, आप जितनी खूबसूरत और स्वीट हो … चाय भी वैसी ही बनी है.
उन्होंने मेरी तारीफ की और पति से बोले- तुम बहुत नसीब वाले हो साहिल कि तुम्हें इतनी खूबसूरत वाइफ मिली है.

कुछ देर बाद वो लोग चले गए.

मेरे पति के बॉस का ध्यान पूरे समय मुझ पर ही था.
मुझे उनसे मिली तारीफ से काफी अच्छा लगा था. मैं भी उनके बारे में सोचने लगी.
वो काफी हैंडसम और स्मार्ट थे. शायद जिम भी जाते थे.

कुछ दिन बाद वो दोनों फिर से आए.

मैं बोली- आप क्या लोगे सर, चाय काफी या ठंडा?
वो बोले- ठंडा … कोल्डड्रिंक चल जाएगी.

पर मेरी बदनसीबी थी कि घर में उस दिन कोल्डड्रिंक नहीं थी.
मैंने पति से कहा तो वो बोले- मैं ले आता हूँ.

पति के जाने के बाद मैं उनके बॉस के साथ बैठ गई.
वो मेरी तारीफ करने लगे.

मैं शर्मा रही थी पर अच्छा भी लग रहा था. मैं उन्हें थैंक्यू बोल रही थी.

ऐसे ही बात करते करते उन्होंने मुझसे मेरा फोन नंबर मांगा.

बॉस बोले- ज्योति, यदि तुम्हें बुरा न लगे तो क्या मैं तुमसे कभी फोन से बात कर सकता हूँ?
मैंने उनके मुँह से अपना नाम सुना तो मुझे अन्दर तक एक अजीब सी ख़ुशी हुई.

मैं झट से बोली- हां हां क्यों नहीं!
तो उन्होंने मुझसे फोन नम्बर देने के लिए कहा.
मैंने झट से दे दिया.

उन्होंने उसी वक्त फोन लगा दिया तो मेरे पास भी उनका नम्बर आ गया.
मैंने नम्बर सेव कर लिया.

थोड़ी देर में पति आ गए.
हम तीनों कोल्डड्रिंक पीने लगे.

बॉस मुझे ही देखे जा रहे थे.
मैं कुछ नहीं बोल रही थी मगर अन्दर ही अन्दर मुझे एक मस्ती सी चढ़ रही थी.

ऐसा नहीं था कि मेरे पति मुझे प्यार नहीं करते थे मगर तब भी न जाने क्यों पति के बॉस के साथ मुझे बहुत अच्छा लग रहा था.
फिर कुछ देर बाद बॉस चले गए.

एक घंटा बाद मेरे व्हाट्सैप पर बॉस का मैसेज आया ‘हाय ज्योति!’
मैंने उनका मैसेज पढ़ा और हाय लिख दिया.

उसके बाद वो मुझे मैसेज करने लगे.
मैं भी जवाब देने लगी थी.

जब पतिदेव काम पर होते थे तब मेरी उनके बॉस से हर दिन कॉल पर बात होने लगी थी.

मेरे स्टेटस की पिक देख कर बॉस उसकी बहुत तारीफ करते थे.
वो कमेंट्स करके लिखते थे कि तुम बहुत सेक्सी लग रही हो, सच में बड़ी हॉट हो.

मैं उनकी इस तरह की सब बातों का जवाब मैं थैंक्यू बोल कर हंस देती थी.
धीरे धीरे वो मुझसे खुलने लगे और मैं भी कुछ नहीं बोलती थी.
उनसे मेरी सेक्सी बातें भी होने लगी थीं.

हमारे बीच वीडियो कॉल पर बात भी होने लगी थी.
हम दोनों आपस में अपनी हर बात को शेयर करने लगे.

मैं उनको वो बातें भी बता देती थी जो मैंने पति को नहीं बताई थीं.
मतलब मैं शादी से पहले बॉयफ्रेड के बारे में अपनी सेक्सी बातें उन्हें बताने लगी थी.

एक दिन बॉस ने मुझे वीडियोकॉल पर प्रपोज किया.
मैंने भी उनको हां बोल दिया.

मैं बोली- बस, मैं आपसे शादी नहीं कर सकती हूँ.
तो वो बोले- हां ठीक है.

वैसे वो भी नहीं चाहते थे कि शादी आदि का झमेला हो.
फिर हम दोनों ने मिलने का प्लान बनाया.

उस दिन बॉस ने पति को किसी काम से बाहर भेज दिया था.
पति बाहर जा रहे थे तो मैंने अपने पति से अपनी सहेली से मिलने जाने का कहा.

पति ने हां कह दी.
पति के जाते ही बॉस आ गए और मैं बॉस के साथ उनके फ्लैट पर आ गई.
वो एक बंगला था जहां वो और उनके कुछ नौकर रहते थे.

उस दिन उस बंगले पर कोई नहीं था जब वो मुझे उधर ले गए थे.

वो मुझे अपने साथ कार में घर तक ले गए थे.

जब हम दोनों घर के अन्दर पहुंचे तो अन्दर जाते ही मेरे ऊपर फूलों की बरसात हुई.

मैं बहुत खुश हो गई.
पहली बार ऐसा किसी ने मेरे लिए किया था.

मैंने उनको कसके हग किया, उन्होंने भी मुझे कस कर पकड़ लिया.

हम दोनों ने एक दूसरे को किस किया.
ये पहली बार हमने किस किया था.

उन्होंने मुझे एक सोने की रिंग पहनाई, ये बहुत सुंदर थी.
फिर गुलाब फूल देकर प्रपोज किया और आई लव यू बोला.

मैंने भी ‘आई लव यू टू’ कहकर उनका प्रपोजल स्वीकार कर लिया.

फिर वो मुझे किस करने लगे और मेरी साड़ी खींच कर निकाल दी.
उसके बाद मेरा पेटीकोट ब्लाउज भी हटा दिया.

मैं अपनी ब्रा पैंटी में आ गई.
उसके बाद बॉस ने मुझे एक बॉक्स दिया और उसमें रखे कपड़े पहन कर आने को बोला.

वो वो लाल कलर की ब्रा-पैंटी थी … ट्रांसपेरेंट और छोटी सी … उसमें मुश्किल से मेरे दूध और चूत ढक पा रहे थे.
मैंने जब अपने आपको आईने में देखा तो मैं शर्मा गई.

मैं जैसे ही बॉस के सामने गई, वो पागल हो गए और मेरे मम्मों की तारीफ करने लगे- सच में डार्लिंग, कितने बड़े बूब्स हैं.

फिर वो मुझे अपनी गोद में उठा कर एक बेडरूम में ले गए.
वहां एक आलीशान बेड था, जो फूलों से सजाया गया था.
उस पर मुझे लेटा दिया.

मैं अपनी चूत को पैरों से छुपाने लगी और मम्मों को हाथों से.
मेरे सामने खड़े होकर बॉस ने अपनी शर्ट और पैंट को उतार दिया और मेरे ऊपर आ गए; मेरे होंठों पर अपने होंठ रख कर चूसने लगे … मेरे बूब्स दबाए.

अब मैं आहें भर रही थी- आह उह उई मां!
मैं भी उनकी पीठ को पकड़ कर सहला रही थी और एकदम मदहोश हो गई थी.

फिर उन्होंने मुझे अपने ऊपर ले लिया और मेरी ब्रा का हुक खोल कर मेरे 36 इंच के मम्मों को आजाद कर दिया.

वो मेरे मम्मों को हाथ से मसलते हुए मुझे किस करने लगे.
अपना एक हाथ मेरी पैंटी के अन्दर डाल कर चूत से खेलने लगे.

मेरी पूरी बॉडी में एकदम करेंट सा लगा.

थोड़ी देर में उन्होंने मेरी पैंटी भी निकाल दी.
मैं पूरी नंगी हो गई.

फिर वो मेरी पूरी बॉडी को किस करते करते चाटने चूमने लगे.
मेरी चूत को चाटने लगे.

मेरी चूत एकदम क्लीन थी.
मैं पागल हो रही थी.

फिर उन्होंने अपना लंड निकाला और मेरे हाथ में दे दिया.
मैं देखती रह गई … कितना बड़ा था … शायद 7 इंच का … और मोटा भी.

फिर उन्होंने मुझे किस किया और मेरे मुँह में लंड डाल दिया.
मैंने मना की, तो उन्होंने कहा- आई लव यू डार्लिंग … प्लीज मना मत करो.

चूंकि मैंने अपने पति का लंड कभी नहीं चूसा था तो मुझे अजीब लगा.
फिर मैं मान गई क्योंकि ब्लू फिल्म में मैंने बहुत बार देखा था.

थोड़ी देर बाद मुझे उनका लंड चूसना अच्छा लगने लगा.
वो मेरे मुँह में धक्का देने लगे.
आह … उनका लंड काफी अन्दर तक लंड चोट कर रहा था.

कुछ देर बाद उन्होंने मेरी चूत को चाट कर उस पर अपना लंड टिका दिया.
मैं बोली- आराम से जानू.

मगर वो कहां कुछ सुनने वाले थे. सर ने एक जोरदार धक्का लगा दिया.

मुझे बहुत दर्द हुआ जबकि अभी आधा लंड ही अन्दर गया था.
मैंने सम्भलने की कोशिश की लेकिन उन्होंने तभी फिर से एक और धक्का दे दिया.
इस बार उनका पूरा लौड़ा अन्दर चला गया था.

मुझे बेहद दर्द होने लगा था.

उनका लंड मेरे पति के लंड से काफी मोटा था.
मेरी चूत चिर सी गई थी.

थोड़ी देर रुकने के बाद उन्होंने लंड को आगे पीछे करना शुरू कर दिया.
अब मैं भी मजा लेने लगी और गांड उठा उठा कर चुदवाने लगी.

मेरी मादक आवाज कमरे में गूंजने लगी- आह उह आह उह!
हम दोनों की जांघें आपस में टकराने से भी थाप थाप की आवाज आ रही थी.

कुछ देर बाद उन्होंने लंड निकाल कर कहा- चल मेरी जान, अब कुतिया बन जा.
मैं झट से किसी रंडी की तरह डॉगी पोज में आ गई.

बॉस ने मेरी चूत में पीछे से अपना लंड पेल दिया.
मुझे बहुत दर्द हुआ.
मैं चिल्लाने लगी.

मेरी आवाजों से उन्हें और जोश चढ़ता गया; वो और जोर जोर से मेरी चुदाई करने लगे.
कुछ टाइम बाद वो एकदम से तेज तेज चोदने लगे और मेरे अन्दर ही झड़ गए.

हम दोनों एक दूसरे से चिपक कर लेट गए. मुझे हस्बैंड बॉस सेक्स में बहुत मजा आया.
उस दिन उन्होंने मुझे 4 बार चोदा.
उसी सब में शाम हो गई थी.

मैं बॉस से बोली- अब मुझे जाने दो ना जान!
वो बोले- आज की रात यहीं रुक जाओ ना प्लीज!

मैंने थोड़ी ना मुकुर की. बाद में मैं राजी हो गई और अपने पति को फोन लगा कर उनसे बोली- मैं सुबह पहुंच पाऊंगी, अपनी सहेली के घर पर रुक गई हूँ.
पति- ठीक है.

बॉस डिनर के लिए पूछने लगे कि क्या मंगाऊं?
मैं बोली- मैं बना दूंगी, ऑर्डर मत करो.
वो बोले- ठीक है.

फिर मैं किचन में जाने के लिए कपड़े देख रही थी.

तो वो बोले- अरे जान इतनी हॉट हो, कपड़ों की क्या जरूरत है. तुम नंगी कितनी प्यारी लगती हो, ऐसे ही चली जाओ.
मैं कुछ बोली तो उन्होंने मेरे सारे कपड़े छीन लिए और मुझे कपड़े पहनने से मना कर दिया.

फिर मैं वैसे ही नंगी खाना बनाने लगी. खाना बनाते टाइम भी बॉस मुझसे मजा करने लगे.

खाना खाते टाइम भी बॉस ने खुद कुछ नहीं पहना था और ना ही मुझे भी नहीं पहनने दिया.
वो मुझे गोद में बैठा कर खाना खिलाते रहे.

खाना खाकर हम दोनों ने आराम किया.

रात को हम दोनों ने 3 बार सेक्स एंजॉय किया. मैंने बार बार उनका लंड चूसा और माल भी खा लिया.
बॉस ने मेरी नंगी फोटो भी ले लीं.

सुबह हम दोनों साथ में नहाए, वहां भी एक राउंड सेक्स किया.
मैंने उनका लंड भी चूसा.
नहाते वक्त भी उन्होंने दोनों की नंगी पिक खींच ली.

उसके बाद उन्होंने कपड़े पहने और मुझे तैयार होने के लिए बोला.
फिर मुझे शहर छोड़ दिया.
मैं घर आ गई.

अब जब भी मौका मिलता है या मन करता है तो वो मेरे पति को काम से बाहर भेज देते हैं और मेरे रूम में आ जाते हैं.
या मुझे अपने बंगले में ले जाकर मेरे साथ चुदाई की मस्ती करते हैं.

दोस्तो, आपको यह मेरी हस्बैंड बॉस सेक्स कहानी कैसी लगी, प्लीज़ बताइएगा जरूर!

अगर आप चाहेंगे तो शादी से पहले की मेरी सेक्स स्टोरी को भी मैं आपके साथ शेयर करूंगी.
[email protected]

Check Also

पति पत्नी की चुदास और बड़े लंड का साथ- 2

थ्रीसम डर्टी सेक्स का मजा मैंने, मेरी पत्नी ने एक किन्नर किस्म के आदमी या …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *