गर्लफ्रेंड ने सुनाई सुहागरात की कहानी

न्यू हॉट वाइफ Xxx कहानी मेरी एक सेक्सी दोस्त लड़की की शादी के बाद सुहागरात की पहली चुदाई की है. उसने खुद मुझे अपने पहले सेक्स की कहानी सुनाई थी.

यह कहानी सुनें.

New Hot Wife Xxx Kahani

फ्रेंड्स, ये बात लॉकडाउन के टाइम की है, तब मैं इंस्टाग्राम पर एक लड़की से बात करता था.

उसका नाम तारा था. वो आगरा की रहने वाली थी.

उस समय हम दोनों बहुत अच्छे दोस्त बन गए थे.
हम दोनों दिन भर बात किया करते थे; कभी कभी वीडियो कॉल भी कर लेते थे.

उसका जिस्म एकदम गोरा था दूध के जैसा. उसके 34 के मम्मे इतने मस्त थे कि देखने से मन ही नहीं भरता था … और पकड़ कर चूसना संभव ही नहीं था क्योंकि इंस्टा पर बात होती थी. उसकी मोटी गांड भी 36 इंच की बड़ी सेक्सी थी.

एक दिन उसके पेट में दर्द हो रहा था.
मैंने उससे पूछा- क्या हुआ, ऐसे मुँह क्यों बना रही हो?

पहले तो उसने बताया नहीं … फिर मेरे काफ़ी जोर देने पर उसने बताया कि उसके पीरियड्स चल रहे हैं. माहवारी के दौरान पेट में दर्द होता है.

उस बात को लेकर मैंने उसे गूगल करके देसी उपाय बताया.

वो मेरी इस बात से काफी खुश हुई और मुझे अपने अंदरूनी मामलों के बारे में बताने लगी.
मैं भी उससे गम्भीरता से बात करके बताने लगा.

तब से हम दोनों खुल कर बात करने लगे.
हमारे बीच सेक्स को लेकर बात होने लगी.
उसने कई बार मुझे अपनी नंगी चूत व चुचे आदि भी दिखाए.

वो अपनी चूत में उंगली नहीं करती थी जबकि मैं उसके सामने अपने लंड की मुठ मार लेता था.

उसके कुछ महीने बाद उसकी शादी हो गई और वो कुछ दिनों के लिए गायब हो गई.
एक दिन वो ऑनलाइन दिखी तो मैंने उसे गुस्से में कॉल किया.

उसने बताया कि मेरी शादी हो गई है और मैं अभी ससुराल में हूँ. जब मायके जाऊंगी, तो कॉल करूंगी.
इतना कह कर उसने कॉल कट कर दी.

मैं उसकी इस बात से हक्का बक्का था कि इसने तो शादी भी कर ली और मुझे बताया भी नहीं.
खैर … मैं कौन सा उसका ब्वॉयफ्रेंड था जो उससे कुछ कह पाता.

कुछ हफ्ते बाद वो मायके आई तो उससे बात शुरू हुई.

एक दिन ऐसे ही बात बात में मैंने पूछ लिया- सुहागरात को क्या हुआ?

उसने मुझे बताना शुरू किया:

मेरी सुहागरात वाली रात को मेरे पति ने कुछ नहीं किया जबकि मेरी Xxx चूत में खुजली हो रही थी. मैं अपने जीवन में पहली बार चुदने जा रही थी.

पति ने कहा- आज काफी थकान हो रही है. तुम भी थकी होगी, तो हम दोनों सेक्स नहीं करेंगे. सिर्फ बात करेंगे.
उनकी बात ठीक थी, मुझे शादी में जागते रहने के कारण काफी थकान हो रही थी और नींद आ रही थी.

मैं अपने पति से बात करने लगी.
मेरे पति ने मेरे बदन से सारे गहने हटाए और मुझे लगभग नंगी कर दिया.
मैं सिर्फ ब्रा पैंटी में रह गई थी.

मेरा कामुक बदन देख कर वो काफी खुश हुए और मुझे अपनी बांहों में लेकर लेट गए.

उन्होंने अपने कपड़े भी उतार दिए और चड्डी पहने ही मेरे साथ लेटे थे.
हम दोनों ने एक दूसरे को काफी किस किए और बात करने लगे.

मेरे शरीर की गर्मी, सेक्स की मांग कर रही थी मगर पति महोदय सो गए.
मैं क्या कर सकती थी … मैं भी सो गई.

जब मैं सुबह उठी तो नहाकर रूम में आई.
उस वक्त मैंने ना तो पैंटी पहनी थी और ना ही ब्रा, सिर्फ़ तौलिया से अपने बदन को ढक रखा था.

कमरे में आते ही मुझे अपने पति के साथ शरारत करने की सूझी.

वो चादर ओढ़े लेटे हुए थे.
मैंने अपने गीले बालों को अपने पति के मुँह पर झटकारना शुरू कर दिया.

जैसे ही मेरे पति उठे, उन्होंने अपने हाथ से मुझे पकड़ने की कोशिश की.
मैं डर कर पीछे को हाथ गयी और मेरी तौलिया में ढका मेरा बदन एकदम से नंगा हो गया.
सामने पति महोदय भी एकदम नंगे थे. उनका लंड गुर्रा रहा था.

मुझे मालूम था कि लड़कों का लंड सुबह सुबह खड़ा ही रहता है.
मेरे पति का लंड भी खड़ा था मगर उन्होंने जैसे ही मुझे नंगी देखा, तो उनका लंड अब और भी बुरी तरह से अकड़ गया था.

जब मेरी नज़र पति के लंड पर पड़ी तो मेरा हलक सूख गया.
पति का लंड किसी नीग्रो के लंड के जैसा लंबा और मोटा था.

डर के मारे मेरा पूरा चेहरा लाल पड़ गया.
मैं सोचने लगी कि मेरी चूत में आज तक एक उंगली भी नहीं घुसी थी, इतना बड़ा लंड मैं कैसे ले पाऊंगी.
इस ख्याल से मैं भयभीत हो उठी थी.

तभी मेरे पति उठ कर मेरे पास आ गए और मुझे किस करने लगे.
आज पहली बार किसी मर्द ने मेरे बदन को इस तरह से सेक्सी भाव से छुआ था और मुझे चूमा था.

हालांकि कल रात को भी मेरे पति ने मुझे चूमा था मगर उस वक्त तक मैंने अपने पति का लंड नहीं देखा था.
मैं सोचने लगी कि रात को तो पति ने अपनी चड्डी उतारी ही नहीं थी, तो अब सुबह से उनका लंड नंगा कैसे हो गया.

इसका मतलब ये था कि पति ने अपने मन में मुझे सुबह सुबह ही चोदने का मूड बनाया हुआ था.
मुझे ये कुछ अजीब भी लग रहा था और अच्छा भी लग रहा था.

करीब पांच मिनट तक चुम्बन करने के बाद पतिदेव ने मेरे मम्मों पर हमला बोला.
वो एक हाथ से मेरे एक दूध को दबाने के कोशिश करने लगे और दूसरे दूध को अपने मुँह में भर कर उसे चूसने की कोशिश करने लगे.

उनके ऐसे करने से मुझे एक अजीब सा नशा छाने लगा और मैं मदहोश होने लगी.
वो मेरे मम्मों को भींच भींच कर चूस और दबा रहे थे. इससे मेरी चूत में चींटियां सी रेंग रही थीं.

ऐसा कुछ देर तक चलता रहा.
मैं खुद अपने पति को अपनी चूची चुसवा रही थी.

पति को भी मेरे दूध के चूचुक अपने होंठों में दाब कर खींचने के मजा आ रहा था.
वो एक बार मेरे निप्पल को खींचते और उसके बाद मेरे होंठों को चूमते.

ऐसा लग रहा था मानो वो मेरे चूचों का रस मुझे पिलाने की चेष्टा कर रहे थे.

धीरे धीरे मेरे पति ने अपना हाथ मेरे चूतड़ों के पास कर दिया और मुझे खींच कर अपने लंड से सटाने लगे.
उनका मोटा सा लंड मेरी चूत पर टक्कर मारने लगा.
मुझे अजीब सी मस्ती का अहसास हो रहा था. बस लग रहा था कि किसी तरह से ये लंड मेरी चूत में घुस जाए.

मगर तभी पति ने अपने दोनों हाथों से मेरे दोनों चूतड़ों को फैलाया और मेरी गांड के छेद में एक उंगली डाल दी.
मैं एकदम से चिहुंक गई और मेरे मुँह से चीख निकल गई. मैं अपने पति से खुद को छुड़ाने की कोशिश करने लगी.
मगर वो काफी बलिष्ठ थे तो मेरी एक न चली.

उनकी उंगली मेरी गांड को कुरेदने लगी थी.
पति ने कहा- अपनी गांड को ढीली छोड़ दो.
मैंने उनकी बात मान ली और उंगली अन्दर चली गई. मुझे अच्छा लगने लगा.

इस बीच पति देव ने लगातार मुझे चूमा, मेरे मम्मों को चूसा, अपने खड़े लंड से मेरी चूत को सहलाया और अपनी उंगली से मेरी गांड के छेद को कुरेदा.

इस सबसे मैं गर्म हो गयी और मेरी चूत ने पानी छोड़ना शुरू कर दिया.
अब मेरे पति के ज्यादा समय ना गंवाते हुए मुझे बिस्तर पर खींचा और 69 का पोज बनाए हुए मेरे मुँह में ज़बरन अपना लंड घुसा दिया.

मैं लंड से मुँह बचाने लगी मगर दूसरी तरफ उन्होंने मेरी टांगें खोल कर चूत चाटना शुरू कर दिया.
मुझे बड़ा अजीब लग रहा था क्योंकि मेरे मुँह में लंड था और अच्छा व बुरा एक साथ लग रहा था.

पति से चूत चटवाने में मज़ा आ रहा था और लंड चूसने में कुछ बुरा लग रहा था.
थोड़ी देर के बाद मैं फिर से झड़ गई और मेरे पति ने भी मेरे मुँह में अपने लंड से पानी छोड़ दिया.

पहली बार मेरे मुँह में लंड का पानी गया था तो मैं एकदम से अकबका उठी.
मैंने जल्दी से सारा वीर्य थूक दिया और मेरा मन उल्टी करने को हो गया.

मेरे पति ने मुझे संभाला और पानी पिलाया.
वो बोले- जाओ, बाथरूम में कुल्ला कर आओ, ठीक हो जाएगा. पहले बार है, ऐसा होता है.

मैं बाथरूम में जाकर मुँह साफ़ करके वापस आ गई.
उन्होंने मुझे अपनी बांहों में भर लिया और मुझे प्यार करने लगे.

कुछ देर में मैं फिर से सामान्य हो गई.

अब पति ने फिर से लंड चूसने को बोला ताकि उनका लंड खड़ा हो जाए.
मैं बेमन से लंड चूसने लगी.

कुछ ही देर में मुझे लंड चूसने में मजा आने लगा; मेरी घिन खत्म हो गई थी.

लगातार लंड चूसने से कुछ ही देर में पति के लंड ने फिर से सलामी दे दी.
अब मेरी चूत फटने की बारी थी जो पहली बार चुदने वाली थी.

मैंने डर के मारे अपना पूरा बदन कसके अकड़ा लिया था.
पति ने कहा कि डरो मत, कुछ नहीं होगा.

उन्होंने मेरी दोनों टांगें उठा कर अपने कंधों पर रख लीं, अपने लंड को चूत के छेद पर सैट कर दिया.
मैं अभी कुछ समझ पाती कि पति ने एक ज़ोरदार झटका दे मारा.

उनके लंड का आधा हिस्सा मेरी चूत को फाड़ता हुआ अन्दर समा गया.

मेरा बुरा हाल हो गया.
मैं चिल्लाने लगी और रोने भी लगी पर मेरे पति ने मेरी एक न सुनी.

उन्होंने मेरे मुँह में चादर का सिरा घुसेड़ कर मेरा मुँह बंद कर दिया.
मैं घूं घूं करने लगी.

मेरे पति पर तब चुदाई का भूत सवार था, उन्होंने बिना कुछ सोचे समझे एक और जोरदार झटका दे मारा.
इस बार उनका पूरा लंबा और मोटा लंड मेरी चूत में जड़ तक चला गया था.

मैं रोये जा रही थी क्योंकि मैं अब चिल्ला तो सकती नहीं थी … और न ही कुछ कर पा रही थी.
दूसरी तरफ पहलवान जैसे बदन वाले मेरे पति को भी पहली बार चूत मिली थी.
वो किसी जगली सांड की तरह मुझे चोदे जा रहे थे.

कुछ मिनट बाद मैं सामान्य हुई और आराम से लेट गयी.
मैं जल्द ही झड़ गई और एकदम मुर्दा सी लेट गई.

मेरे पति मुझे चोदे जा रहे थे.

काफी देर तक मुझे चोदने के बाद मेरे पति ने मुझे छोड़ा और मेरी चूत में झड़ गए.

फिर वो मुझे अपने साथ बाथरूम में ले गए, मेरी चूत साफ की और अपने लंड में लगा चूत से निकला खून पौंछा.
फिर मेरे पति ने मेरी चूत की फोटो क्लिक की … और मुझे दिखाई.

वो बोले- देखो कुछ नहीं हुआ.
जब मैंने फोटो को देखा तो मेरी चूत एकदम सूज कर लाल हो गई थी. चूत का छेद एकदम खुल गया था और अन्दर तक बिल्कुल साफ साफ दिख रहा था.

मुझसे चला भी नहीं जा रहा था.
उस दिन मेरे पति ने मुझे 8 बार चोदा. उसमें उन्होंने एक बार मेरी गांड भी मार ली थी.
इसी वजह से मैं बीमार भी हो गई थी, चलने में भी दिक्कत हो रही थी.

चार दिन बाद मैं ठीक हुई.
उसके बाद पति ने मुझे लगभग रोज चोदा. उन्होंने मेरी चूत का भोसड़ा बना दिया और गांड का गोडाउन बना दिया था.

दोस्तो, मैं अपनी फ्रेंड तारा की चुदाई की कहानी सुनकर हतप्रभ था.
मैं सोच रहा था कि शायद तारा को चोदने का मौका मिल जाएगा मगर उसके पति ने उसे अपने मूसल लंड से चोद कर भोसड़ी वाली बना दिया था. अब वो भला मेरे साधारण लंड से कैसे चुदने को राजी होती.

यह न्यू हॉट वाइफ Xxx कहानी थी जो वास्तव में मेरे दोस्त के साथ घटी थी.
आपको कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करें.
[email protected]

Check Also

पहला सेक्स सहेली के भाई के साथ

हॉट वर्जिन चूत की चुदाई का मजा मेरी सहेली का बड़ा भाई मुझे चोद कर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *